धर्म जागरण मंच के अध्‍यक्ष राजेश्वर सिंह की छुट्टी

पुनः संशोधित शनिवार, 3 जनवरी 2015 (09:29 IST)
नई दिल्ली। 'घर वापसी' कार्यक्रम से सुर्खियों में आने वाले के अध्‍यक्ष राजेश्‍वर सिंह को राष्‍ट्रीय स्वंसेवक संघ ने छुट्टी पर भेज दिया है। एक रिपोर्ट के अनुसार आरएसएस ने उन्हें खराब स्वास्थ्‍य का हवाला देते हुए छुट्टी पर भेजा है। उधर, राजेश्वर सिंह ने कहा है कि उन्होंने इलाज कराने के लिए कुछ महीने की छुट्टी ली है।
 
हालांकि इस आकस्मि छुट्टी का कारण आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत और राजेश्वर सिंह का झगड़ा बताया जा रहा है। राजेश्वर सिंह के कारण मोदी सरकार की छवि धूमिल हो रही थी जिसके कारण मोदी सकार भी उनसे नाराज चल रही थी।
 
गौरतलब है कि राजेश्‍वर सिंह 1971 से ही संघ के प्रचारक रहे हैं। पिछले महीने पुन:के संबंध में विवादित बयान देकर उन्होंने भाजपा सरकार को मुश्‍किल में डाल दिया था जिसके कारण संसद का शीतकालीन सत्र बाधित रहा। 55 साल के राजेश्‍वर सिंह ने पश्‍चिमी उत्तर प्रदेश में अकेले घर वापसी कार्यक्रम की कमान संभाल रखी थी। अलीगढ़ में धर्म परिवर्तन कराने के प्लान को लेकर विवादों में आए राजेश्वर सिंह के एक बयान से मोदी सरकार विपक्ष के घेरे में आ गई।
 
राजेश्वर सिंह ने कहा था कि साल 2021 के अंत तक भारत को मुस्लिम और ईसाइयों से मुक्त करा लेंगे। राजेश्वर सिंह पश्चिमी यूपी में आरएसएस के इस संगठन धर्म जागरण मंच के अध्यक्ष हैं। राजेश्वर ने विवादित बयान देते हुए कहा कि भारत में मुस्लिम और ईसाइयों को रहने का हक नहीं है। इसके बाद राज्यसभा में विपक्ष ने और जोर शोर से मोदी सरकार को घेरा। विपक्ष इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री के बयान पर अड़ा था। अलीगढ़ में धर्म परिवर्तन के कार्यक्रम के आयोजन की खबर के बाद चर्चा में आए धर्म जागरण मंच के नेता राजेश्वर सिंह ने और भी कई आपत्तिजनक बयान दिए। (एजेंसी)
 



और भी पढ़ें :