LoC भारत ने खोले तोपों के मुंह, पाकिस्तान में जबर्दस्त तबाही

सुरेश एस डुग्गर| पुनः संशोधित बुधवार, 13 नवंबर 2019 (17:51 IST)
जम्मू। पाक सेना को एक बार फिर जबरदस्त क्षति एलओसी पर उठानी पड़ी है। उसके कई सैनिक उस समय मारे गए जब भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई करते हुए अपने तोपखानों के मुंह खोले थे। सेना के मुताबिक, पिछले 11 दिनों में पाक सेना ने 100 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है और उसे हर बार मुंह की खानी पड़ी है।
जिला राजौरी में नियंत्रण रेखा से सटे गांव केरी में आज सुबह तड़के पाकिस्तानी सैनिकों ने अचानक गोलाबारी शुरू कर दी। फिलहाल इस गोलाबारी में किसी तरह के जानमाल के नुकसान की जानकारी नहीं हैं परंतु भारतीय जवानों ने भी की इस नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया है। अभी दोनों ओर से गोलाबारी बंद है परंतु केरी गांव में दहशत का माहौल व्याप्त है। भारतीय जवानों ने गांववासियों से सुरक्षित स्थानों में रहने की हिदायत दे रखी है।
जानकारी के अनुसार आज सुबह 7 बजे के करीब पाकिस्तानी सैनिकों ने केरी सेक्टर में रिहायशी इलाकों को निशाना बनाते हुए गोलाबारी शुरू कर दी। चौकियों में तैनात भारतीय जवानों ने भी जवाब में जमकर गोलाबारी की। उन्होंने भी पाकिस्तान की उन चौकियों को निशाना बनाते हुए गोलाबारी की जहां से यह मोटार्र शैल दागे जा रहे थे। करीब एक घंटे तक रूक-रूक कर चली इस गोलाबारी के दौरान किसी तरह के नुकसान की सूचना नहीं मिली है। सुबह का समय होने की वजह से लोग अभी घरों के कामकाज के लिए बाहर निकलते ही थे कि गोलाबारी शुरू हो गई।
इस बीच सेना के मुताबिक, बीते 11 दिनों में ही पाक सेना 100 बार अंतरराष्ट्रीय सीमा (आइबी) व एलओसी पर जंगबंदी का उल्लंघन कर चुकी है। इस साल अक्टूबर में सबसे ज्यादा 351 बार जंगबंदी का उल्लंघन हुआ है। भारतीय जवानों ने भी पाकिस्तानी सेना को हर बार मुंहतोड़ जवाब देते हुए उसके नापाक मंसूबों को नाकाम बनाया है। संबंधित अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तानी सेना एलओसी व आइबी पर तनाव बनाए रखने के लिए इस साल जनवरी से ही जंगबंदी का उल्लंघन कर रही है। अगस्त माह के दौरान पाक सेना ने 307 बार आइबी व एलओसी पर जंगबंदी का उल्लंघन किया है।
पाक सेना के सीमावर्ती इलाकों में बैट हमले और स्वचालित हथियारों से लैस आतंकियों द्वारा घुसपैठ के प्रयास किए जाने के मामलों में भी बढ़ोतरी हुई है। भारतीय सेना ने हर बार पाकिस्तानी सेना के मंसूबों को नाकाम बनाया है। गत 20 अक्टूबर को भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई करते हुए उत्तरी कश्मीर में टंगडार सेक्टर के पार गुलाम कश्मीर में आतंकियों के चार लांचिग पैड बर्बाद किए हैं। इस कार्रवाई में पाकिस्तानी सेना के 10 जवान भी मारे गए थे।


और भी पढ़ें :