यह किराना घराने का सम्मान-पंडित भीमसेन

पुणे (वार्ता)| वार्ता| पुनः संशोधित बुधवार, 5 नवंबर 2008 (19:52 IST)
हमें फॉलो करें
देश का दिए जाने पर के महान कलाकार पंडित भीमसेन जोशी ने बुधवार को प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि यह किराना घराने का सम्मान है।


पंडितजी ने अपनी दिवंगत पत्नी वत्सला को याद करते हुए कहा कि वत्सला का संगीत से काफी प्रेम था और उन्होंने समूचे करियर में पंडितजी की काफी मदद की। पंडितजी के अनुसार इस अवसर पर उन्हें वत्सला की बड़ी याद आ रही है।

आज के संगीत के बारे में पूछने पर पंडितजी ने कहा कि एक समय था जब तीन मिनट का एक गीत सुनने के लिए लोग दस मील चलकर जाते थे, पर आज वैसे गायक भी नहीं हैं।

पंडितजी के छोटे पुत्र जयंत जोशी ने कहा पूरा परिवार इस खबर से खुश है और उनके पिता इस सम्मान के हकदार थे। जयंत के अनुसार सम्मान पहले मिलना चाहिए था, पर कोई बात नहीं सब लोग खुश हैं।


पंडितजी की बहू शिल्पा के अनुसार यह पंडितजी के भारतीय शास्त्रीय संगीत को दिए योगदान का सम्मान है। महाराष्ट्र के राज्यपाल एससी जमीर और शिवसेना कार्याध्यक्ष उद्धव ठाकरे, पुणे के सांसद कलमाड़ी और महापौर राजलक्ष्मी भोसले ने पंडितजी को बधाई दी।
शिल्पा के अनुसार घोषणा के बाद से ही उनके घर आकर पंडितजी को बधाई देने वालों का ताँता लगा हुआ है। पंडितजी को भारत रत्न देने की घोषणा मंगलवार को राष्ट्रपति भवन ने की थी।



और भी पढ़ें :