पीएम मोदी का राष्ट्र के नाम संदेश, 3 मई तक बढ़ाया लॉक डाउन, बताया विजयी होने का सप्तपदी मंत्र

Narendra Modi
राजश्री कासलीवाल|
14 अप्रैल को भारत भर में चल रहे लॉक डाउन का अंतिम दिन है। इसी के मद्देनजर आज बाबासाहेव अंबेडकर की जयंती पर प्रधानमंत्री मोदी ने दिया। कोरोना जैसे वैश्विक महामारी से निपटने के लिए यह प्रधानमंत्री मोदी का देश के नाम चौथी बार संदेश है। जिसमें कई बातों पर मोदी जी ने अपनी बात रखते हुए देश‍वासियों को नमन करते हुए अपील की।

पीएम मोदी ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान देश की जनता ने कई तरह के कष्टों को सहते हुए देश को बचाने के लिए बहुत बड़ा योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि जहां लोगों को खाने की, आने-जाने की और अपने परिवार से दूर रहने परेशानी हो रही है। फिर भी देशवासी अनुशासित रहकर अपना कर्तव्य निभा रहे हैं। मैं उन सभी देशवासियों को नमन करता हूं।

भारत के संविधान की प्रस्तावना में लिखे हुए We The People Of India (वे थे पीपल ऑफ़ इंडिया) बाबासाहेब अंबेडकर द्वारा लिखा गया सामूहिक शक्ति का प्रदर्शन ही बाबासहेब को सच्ची श्रद्धांजलि है। भारत त्योहारों के देश है और वैशाख मास में कई त्योहार आए हैं, जिन्हें भारतवासियों ने देश में लॉक डाउन के बंधन के चलते, नियमों का पालन करते हुए सादगीपूर्वक त्योहार मना रहे हैं यह प्रशंसनीय और प्रेरक है। देश को वैश्विक महामारी कोरोना के चलते मैं देश की मंगलकामना की प्रार्थना करता हूं।

सोशल डिस्टेटिंग और लॉक डाउन को लागू करना भारतवासियों की जिंदगी की तुलना बहुत महर्त्वू है और भारत जिस मार्ग पर चल रहा है, उसकी चर्चा दुनियाभर में होना स्वाभाविक है। सोशल डिस्टेटिंग और लॉक डाउन का राज्यों ने बड़ी ही जिम्मेदारियों के साथ निभाया है। लोगों को दिक्कते कम से कम कैसे हो इस पर भी सभी राज्यों से चर्चा की गई है और लॉक डाउन बढ़ाया जाए यही राज्य और जनता की अपील है। कई राज्यों ने तो लॉक डाउन आगे बढ़ा भी दिया है। अब लॉक डाउन तक बढ़ाया जाएगा। इस दौरान हर देशवासी को लॉक डाउन में ही रहना होगा, अनुशासन का पालन करना ही होगा। हमें इस बात का विशेष ध्यान रखना है कि कोरोना को हमें नए क्षेत्रों में फैलने नहीं देना है। स्थानीय स्तर पर एक भी बढ़ता है या किसी एक भी व्यक्ति की मृत्यु होती है तो हमारी चिंता बढ़नी चाहिए इसीलिए हमें अधिक ज्यादा सतर्कता बढ़ानी होगी। अब अगर किसी भी नए क्षेत्र में हॉट स्पॉट बढ़ते हैं तो यह हमारी तपस्या को नई चुनौती देने जैसा होगा अत: हॉट स्पॉट वाले क्षेत्रों पर कड़ी नजर रखनी होगी। ऐसे में कोरोना की लड़ाई में कठोरता बढ़ाई जाएगी और 20 अप्रैल तक हर राज्य को बारीकी से परखा जाएगा। जो क्षेत्र इस अग्नि परीक्षा में सफल होंगे वहां पर 20 अप्रैल से कुछेक छूटछाट की अनुमति दी जा सकती है और अगर लॉक डाउन के नियम टूटते दिखाई देते हैं तो सारी अनुमति तुरंत वापस ले ली जाएगी। इसीलिए लापरवाही नहीं करना है।

इस संबंध में 15 अप्रैल को एक नई गाइड लाइन जारी की जाएगी। पहले से ज्यादा सतर्कता रखनी होगी। गरीब परिवारों को गरीब कल्याण योजना के माध्यम से राहत पहुंचाई जाएगी। हमारे पास दवा और राशन का पर्याप्त भंडार है। हमारे पास जहां पहले 1 ही लैब थी, अब हमारे पास 600 से ज्यादा लैब है, जो इस पर काम कर रही है और 1 लाख से अधिक बेड की व्यवस्था है। मोदी ने देशवासियों से यह भी अपील की कि हमारे युवा वैज्ञानिक साथी आगे आए और विश्व कल्याण और मानव कल्याण के लिए कोरोना का वैक्सिन बनाने का बेड़ा उठाएं।

कोरोना वैश्विक महामारी के चलते प्रधानमंत्री मोदी जी ने अब तक देश को चार बार संबोधित किया है। जो देशवासियों के लिए बहुत मह्त्वपूर्ण है।

1. 19 मार्च को 29 मिनट तक पहला संबोधन देकर जनता कर्फ्यू की अपील की।

2.
24 मार्च को दूसरा संबोधन 24 मिनट का संदेश और 21 दिन का लॉक डाउन की घोषणा।

3. 3 अप्रैल को तीसरा संदेश 12 मिनट का वीडियो संदेश। 9 मिनट तक लाइट बंद रखने की अपील।

4. 14 अप्रैल को चौथा संदेश जिसमें 3 मई तक लॉक डाउन बढ़ाने के साथ-साथ सभी देशवासियों से घर में रहने और घर में बने मास्क पहनने तथा सुरक्षित रहने की अपील की।

प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से यह भी अपील कि की मैं आप लोगों से इन 7 बातों के लिए आपका साथ मांग रहा हूं।

1. बुजुर्गों की सेहत का ध्यान रखना है और उन्हें कोरोना से बचाना है।

2. लॉक डाउन और सोशल डिस्टेटिंग का पूरी तरह का पालन करें।

3. फेस मास्क, फेस कवर जो खास तौर पर घर में बने हुए हो उनका उपयोग करें। अपनी ह्यूमिनिटी बढ़ाने के लिए गरम पानी और काढे का सेवन करें।

4. कोरोना संक्रमण को रोकने हुत आरोग्य सेतू एप डाउनलोड करें और दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें।

5. गरीब परिवारों की देखरेख करें।

6. व्यवसायी, अपने यहां काम कर रहे लोगों और नौकरी करने वालों लोगों के प्रति संवेदना रखते हुए उन्हें नौकरी से ना निकालें।

7. कोरोना वॉरियर्स की भूमिका निभा रहे डॉक्टर पुलिस, आदि सभी साथियों का सम्मान करें।

मैंने जिन 7 बातों के लिए आपका साथ मांगा है वहीं सप्तपदी विजयी होने का एकमात्र मार्ग है।

26 दिनों में मोदी जी का यह राष्ट्र के नाम चौथा संदेश है। कल 3 मई तक लॉक डाउन को बढ़ाया जाएगा और लॉक डाउन पर कल एक नई गाइड लाइन जारी होगी। 15 अप्रैल से 19 दिनों का लॉक डाउन शुरू होगा जो 3 मई तक जारी रहेगा। अत: सभी लॉक डाउन के नियमों का पालन करें।

वयं राष्ट्रे जागृयाम,

इसी कामना के साथ मैं अपनी बात समाप्त करता हूं। बहुत बहुत धन्यवाद।



और भी पढ़ें :