EVM की बजाए बैलेट पेपर से हो चुनाव, कमलनाथ की मांग, VD का पलटवार, बैलेट पेपर नहीं जनता जिताती है चुनाव

Author विकास सिंह| पुनः संशोधित सोमवार, 16 मई 2022 (15:37 IST)
हमें फॉलो करें
भोपाल। 2023 के विधानसभा चुनाव से पहले मध्यप्रदेश में एक बार ईवीएम का मुद्दा गर्मा गया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने की बजाए बैलेट पेपर से चुनाव कराए जाने की मांग की है। कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस चुनाव आयोग से मांग करेगी कि ईवीएम पर लोगों को शक है इसलिए बैलेट पेपर से चुनाव कराए जाए।
इसके साथ ही कांग्रेस चुनाव आयोग से यह भी मांग करेगी कि ऐसा सिस्टम किया जाए कि ईवीएम से वोटिंग के दौरान (बटन दबाने पर) बैलेट भी निकल कर आए, जिससे वोट की विश्वसनीयत बनी रही। आज ईवीएम में कौन सा बटन दबाया और कौन सा रिजल्ट निकल कर आया यह पता नहीं चलता।


कमलनाथ ने सवाल उठाते हुए कहा कि जब अमेरिका में बैलट पेपर से चुनाव हो सकते हैं तो भारत मे क्यों नही। ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल उठाते हुए कमलनाथ ने कहा कि आज विश्व के विकसित देशों जैसे अमेरिका, जापान और जर्मनी में ईवीएम नहीं है, जर्मनी जैसे देश ने संविधान में संशोधन कर ईवीएम से चुनाव नहीं कराने का फैसला किया।


भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कसा तंज-
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग पर भाजपा ने तंज कसा है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि कमलनाथ ऐसी बातें इसलिए कर रहे है कि आज कांग्रेस की कोई जमीन ही नहीं बची है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में चुनाव जनता जिताती है न कि बैलेट पेपर। बैलेट पेपर पर वोट देने का काम जनता करती है, जनता है नहीं तो बैलेट पेपर की ही बातेें ही कमलनाथ करेंगे।




और भी पढ़ें :