एमपी में भारी बारिश, 2 लोगों की मौत, सेना ने उतारे हेलीकाप्टर, 24 घंटे में 25 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

Last Updated: सोमवार, 2 अगस्त 2021 (23:57 IST)
भोपाल/शिवपुरी/श्योपुर, पिछले 24 घण्टे से हो रही मूसलाधार बारिश के चलते मध्य प्रदेश के शिवपुरी एवं श्योपुर जिलों में सोमवार को दो लोगों की वर्षाजनित घटनाओं में मौत हो गई है, जबकि शिवपुरी जिले के तीन गांवों के कई लोग बाढ़ के पानी में फंस गये हैं, जिन्हें बचाने के लिए सोमवार शाम को सेना के हेलीकाप्टर लगाये गए।

शिवपुरी के जिलाधिकारी अक्षय कुमार सिंह ने ‘भाषा’ को फोन पर बताया कि जिले में सेना के चार हेलीकॉप्टर पहुंच गए हैं और बाढ़ के पानी से घिरे तीन गांवों से लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर ले जाने का काम जारी है।

उन्होंने कहा कि गांवों के बाढ़ की चपेट में आने की जानकारी मिलते ही बचाव अभियान शुरू कर दिया गया और लोगों को नाव की मदद से भी वहां से सुरक्षित बाहर निकाला जा रहा है। उन्होंने लोगों से हिम्मत रखने और किसी ऊंचे स्थान पर बैठकर राहत पहुंचने का इंतजार करने को कहा गया है।

शिवपुरी जिले के फिजिकल थाना प्रभारी कृपाल सिंह ने बताया कि शिवपुरी नगर के कमला गंज इलाके में रहने वाली जिला अस्पताल की एएनएम (सहायक नर्स दाई) सुमनलता जोशी (50) की सोमवार को करंट लगने से मौत हो गई है। उन्होंने कहा कि बारिश का पानी उनके घर में भर गया था जिसके बाद घर में करंट फैल गया और करंट लगने से एएनएम की मौत हो गई।

उन्होंने कहा,‘हालात यह हैं कि शिवपुरी शहर के कई कॉलोनियों में पानी भरा हुआ है। घरों में पानी घुसने से सामान तैर रहा है। बिजली कंपनी ने सुबह से शिवपुरी शहर की बिजली आपूर्ति बंद कर रखी है, क्योंकि कई ट्रांसफार्मर भी आंशिक तौर पर पानी की डूब में हैं’

इसी बीच, श्योपुर से मिली रिपोर्ट के अनुसार सोमवार को श्योपुर जिले के कराहल तहसील के पहेला गांव में धीरज सिंह गुर्जर (45) की बरसात के पानी के गड्ढे में डूबने से मौत हो गई।

कराहल उपमंडलीय अधिकारी (एसडीएम) ब्रिजेन्द्र सिंह यादव ने बताया, ‘पहेला गांव में धीरज घर से कुछ दूरी पर स्तिथ मंदिर पर बेलपत्र लेकर पूजा करने जा रहा था। इसी दौरान रास्ते में बने गड्ढे में भरे पानी में वह गिर गया। गड्ढे में अधिक पानी होने के कारण वह डूब गया, जिससे उसकी मौत हो गई है’

श्योपुर जिले के विजयपुर बस अड्डे के पास एक विवाह मंडप में सोमवार सुबह बाढ़ का पानी घुस जाने से वहां फंसे करीब 60 लोगों को पुलिस और प्रशासन की टीम ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया है। प्रदेश के अधिकांश भागों विशेषकर शिवपुरी एवं श्योपुर में आज भी मूसलाधार बारिश जारी रही।

आईएमडी ने अगले 24 घंटे में मध्य प्रदेश के 25 जिलों में भारी से अत्यधिक भारी वर्षा होने की संभावना व्यक्त की है जिसके चलते रेड अलर्ट एवं ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। (भाषा)



और भी पढ़ें :