पोलार्ड ने खोला चेन्नई के खिलाफ जीत का राज

पुनः संशोधित बुधवार, 20 मई 2015 (12:36 IST)
हमें फॉलो करें
मुंबई। की आईपीएल-8 के पहले क्वालीफायर में चेन्नई सुपरकिंग्स पर जीत में अहम भूमिका निभाने वाले कीरोन पोलार्ड ने कहा कि उनकी टीम ने यहां बेदाग क्रिकेट खेली।
मुंबई इंडियंस ने 2 बार के चैंपियन चेन्नई को मंगलवार रात वानखेड़े स्टेडियम में 25 रन से हराकर आईपीएल फाइनल में प्रवेश किया। पोलार्ड ने केवल 17 गेंदों पर 41 रन बनाए।
 
अपनी तूफानी पारी में 5 छक्के जड़ने वाले पोलार्ड ने कहा कि हमने बुधवार को बेदाग और शानदार खेल दिखाया। यदि केवल 2 कैच को छोड़ दिया जाए तो यह शानदार प्रदर्शन था। क्षेत्ररक्षण में सुधार की जरूरत है। हम एक समय जिस स्थिति में थे वहां से वापसी करके और फिर यह मैच जीतकर फाइनल में पहुंचना हमारे लिए टीम के रूप में बेजोड़ उपलब्धि है।
 
पोलार्ड टूर्नामेंट में मुंबई की खराब शुरुआत का जिक्र कर रहे थे, जब वह लगातार 4 मैच गंवा बैठा था लेकिन इसके बाद उसने अगले 11 मैचों में से 9 में जीत दर्ज करके फाइनल में जगह बनाई। मुंबई ने लेंडल सिमंस के 65 रन और पोलार्ड की धमाकेदार पारी से 6 विकेट पर 187 रन बनाए और चेन्नई की टीम को 162 रन पर आउट कर दिया।
 
पोलार्ड ने कहा कि 187 रन अच्छा योग था। इस मैदान पर यह बराबरी का स्कोर था। हम जानते थे कि चेन्नई अच्छी टीम है। उन्होंने लीग चरण में हमें यहां बुरी तरह हराया था, लेकिन आज हम जिस स्थिति में हैं उसका पूरा श्रेय सभी खिलाड़ियों को जाता है। 
 
पोलार्ड ने कहा कि ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह का 11वें ओवर में सुरेश रैना और चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को लगातार गेंदों पर आउट करना मैच का टर्निंग प्वॉइंट रहा।
 
उन्होंने कहा कि हम अच्छी शुरुआत चाहते थे और कुछ विकेट हासिल भी कर लिए। भज्जी के पहले 2 ओवर बेशक अच्छे नहीं रहे लेकिन तीसरे ओवर के बाद उन्होंने मैच का नक्शा बदल दिया। रैना और धोनी के आउट होने से 2 गेंद के अंदर मैच का नक्शा बदल गया। हरभजन ने जहां 26 रन देकर 2 विकेट लिए वहीं लसिथ मलिंगा सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 33 रन देकर 3 विकेट हासिल किए।
 
पोलार्ड ने कहा कि यह पूरी तरह से टीम प्रयास था। भज्जी ने अच्छी गेंदबाजी की। विनयकुमार ने अच्छी गेंदबाजी की। मलिंगा ने बेहतरीन गेंदबाजी की। मिच (मैकलेनगन) की धुनाई हुई लेकिन उसने आखिर में महत्वपूर्ण विकेट (रवीन्द्र जडेजा) लिया। आखिर में सभी ने योगदान दिया।
 
इस कैरेबियाई ऑलराउंडर ने कहा कि हमारे लिए अच्छा यह रहा कि हमने टीम के रूप में जीत हासिल की। सलामी बल्लेबाजों (सिमंस और पार्थिव पटेल) ने अच्छी नींव रखी। वे पिछले 2 मैचों से ऐसा कर रहे हैं। हां, बीच में हम थोड़ा धीमे पड़े लेकिन यह टी-20 क्रिकेट है।
 
पोलार्ड ने कहा कि उन्हें खुशी है कि उनकी टीम को अब 4 दिन के विश्राम का समय मिलेगा।
 
उन्होंने कहा कि यदि हमें दोबारा खेलना पड़ता तो केवल 2 दिन का विश्राम मिलता लेकिन अब हमें 4 दिन विश्राम के लिए मिलेंगे। हम सीधे फाइनल में पहुंचे हैं। हम अच्छी स्थिति में हैं। हम आगे भी वैसा ही प्रदर्शन करेंगे, जैसा कर रहे हैं। (वार्ता)



और भी पढ़ें :