1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. आईपीएल 2015
  4. Dwayne Bravo
Written By
Last Updated: बुधवार, 13 मई 2015 (20:07 IST)

हम टीम में अधिक बदलाव नहीं करते : ब्रावो

नई दिल्ली। चेन्नई सुपरकिंग्स ने आईपीएल में लगातार अपना दबदबा बनाया है और टीम के ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो का मानना है कि उनकी सफलता का राज यह है कि वे अपने मुख्य खिलाड़ियों को बरकरार रखते हैं और टीम में अधिक बदलाव नहीं करते।
पिछले मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ शिकस्त झेलने वाली चेन्नई की टीम आईपीएल अंक तालिका में अभी 13 मैचों में से आठ जीतकर शीर्ष पर चल रही है। ब्रावो ने कहा कि उनकी टीम हमेशा चुनौती के लिए तैयार रहती है।
 
ब्रावो ने कहा, सबसे अहम चीज यह है कि हम टीम में काट-छांट और बदलाव नहीं करते। प्रबंधन काफी अच्छा काम कर रहा है, चाहे यह नीलामी हो या अंतिम एकादश का चयन। वे मुख्य खिलाड़ियों के साथ बने रहने की कोशिश करते हैं। इसलिए मित्रता और टीम एकजुटता रहती है और यह महत्वपूर्ण है।
 
उन्होंने कहा, अगर आपको अच्छी टीम बनना है तो आपको चैम्पियन टीम बनना होगा। आप जिस भी टीम के खिलाफ खेलें आपको उसे हराना होगा। निश्चित तौर पर हम शीर्ष दो में जगह बनाना चाहते हैं लेकिन देखते हैं प्लेऑफ में क्या होता है। हमारे लिए शीर्ष चार काफी महत्वपूर्ण है। 
 
आईपीएल आठ में 12 पारियों में 19 विकेट के साथ सबसे अधिक विकेट चटकाने वाले गेंदबाजों की सूची में ब्रावो शीर्ष पर चल रहे हैं। कई अंतरराष्ट्रीय और भारतीय खिलाड़ियों का करियर निखारने का श्रेय आईपीएल को देते हुए ब्रावो ने जोर देकर कहा कि निश्चित तौर पर यह प्रतियोगिता अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सफलता का रास्ता है।
 
ब्रावो ने कहा, आईपीएल सिर्फ वेस्टइंडीज के क्रिकेटरों की ही नहीं बल्कि प्रत्येक क्रिकेटर की मदद कर रहा है। भारतीय खिलाड़ियों को भी फायदा हो रहा है। आईपीएल के कारण ही भारतीय खिलाड़ी उस तरह के बन पाए, जैसे वे आज हैं। शिखर धवन, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे को देखिए, ये सभी आईपीएल में सफलता के साथ निखरे हैं। 
 
उन्होंने कहा, उन्हें मिशेल जॉनसन और डेल स्टेन सहित कई अंतरराष्ट्रीय तेज गेंदबाजों का सामना करने का मौका मिलता है। वे इन खिलाड़ियों के साथ आईपीएल में इतना अधिक खेलते हैं कि उनके खिलाफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खेलने का आत्मविश्वास मिलता है और वे बेहतर खिलाड़ी बनते हैं। (भाषा)