उगादी पच्चड़ी प्रसाद से करें हिन्दू नववर्ष का स्वागत, स्वास्थ्य होगा बेहतर

Ugadi Pachadi
आंध्रप्रदेश में नववर्ष के उपलक्ष्य में एक पारंपरिक व्यंजन बनाया जाता है जिसे उगादी पच्चड़ी कहा जाता है। पच्चड़ी का इस नववर्ष में अलग ही मजा है।
इस दिन खासकर आम की चटनी यानी पच्चड़ी बनाई जाती है। यहां भगवान को अर्पित किए जाने वाले अनेक पकवानों में 'उगादी पच्चड़ी' मुख्य आकर्षण रहता है जिसे घर-घर में बनाया जाता है।

एक ऐसा अलग स्वाद वाला व्यंजन जिसमें खट्ठा, मीठा, तीखा, नारियल, नमकीन और मिर्च इन 6 तरीकों के मिश्रण को मिलाकर उगादी पच्चड़ी पकवान बनाया जाता है। इसके सेवन से बेहतर होता है। इतना ही नहीं, खाली पेट इसका सेवन करने से चर्म रोग दूर होता है। इसे पंचांग चटनी भी कहा जाता है।
सामग्री : नया गुड़, आम के कुछेक टुकड़े, इमली का रस, नमक, नए नीम के पत्ते और फूल, मिर्च पावडर।

विधि : उपरोक्त सभी सामग्रियों को मिलाकर चटनी बनाकर सेवन की जाती है।

धार्मिक दृष्टि से जितना गुड़ी पड़वा के पर्व का महत्व है, उतना ही स्वास्थ्य के नजरिए से इस प्रसाद का महत्व माना गया है।




और भी पढ़ें :