कोरोनाकाल में मध्यप्रदेश में जेल बंदियों के लिए ई-मुलाकात व्यवस्था का शुभारंभ

Author विकास सिंह| पुनः संशोधित शुक्रवार, 31 जुलाई 2020 (13:21 IST)
भोपाल। कोरोनाकाल में प्रदेश के ने जेल में बंद बंदियों के लिए एक अनूठी पहल की है। के संक्रमण केचलते पिछले करीब 5 महीनों से जेलों में बंद विचाराधीन बंदी अपने परिजनों से दूर है, ऐसे में जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा की पहल पर जेल विभाग ने बंदियों से वर्चुअल मुलाकात की शुरुआत की है।
ALSO READ:
कोरोनाकाल में प्री प्राइमरी और प्राइमरी के बच्चों की भी होगी ऑनलाइन क्लास
आज जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ई-मुलाकात का शुभारंभ किया। इस दौरान परिजनों ने जेल में बंद अपने परिजनों से मुलाकात भी की। इस सुविधा के तहत जेल में बंदी अब महीने में एक बार अपने परिजनों से ई-मुलाकात कर सकेंगे।

इस सुविधा के लिए जेल अधीक्षक को आवेदन करना होगा। योजना का शुंभारत करते हुए मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कोरोना के चलते जेल में बंद कैदी अपने परिजनों से मुलाकात नहीं कर पा रहे थे, इसलिए ई-मुलाकात सेवा का शुंभारभ किया गया है। त्योहारों से पहले
इसके तहत घर पर बैठकर की मुलाकात कर सकेंगे। इस मौके पर डीजी जेल संजय चौधरी भी उपस्थित थे।

जेल विभाग की अपने आप में अनूठी व्यवस्था के शुभारंभ पर भोपाल की रहने वाले एक मुस्मिल परिवार ने जेल में बंद अपने बेटे से ई-मुलाकात के जरिए जब बात की तो वह भावुक हो गई। इसके साथ भोपाल की रहने वाली पूनम ने अपने भाई से फोन पर वीडियो कॉल के जरिए बात कर रक्षाबंधन की बधाई दी।



और भी पढ़ें :