Life in the times of corona : work @ home हैं तो यह 5 काम कर लीजिए, बहुत काम आएंगे

life in the times of corona
life in the times of corona

कोरोना, कोरोना और बस कोरोना... फिलहाल हर जगह, हर कोने, हर देश से एक ही आवाज आ रही है। आवाज जिसमें डर है, चेतावनी है, सावधानियां है, आशंकाएं हैं लेकिन हम इस नकारात्मक माहौल में कुछ सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ सकते हैं। इन दिनों कई ऑफिस , कंपनी, स्कूल और संस्थाओं में work @ home का आदेश लागू है। ऐसे में सोचना यह है कि अचानक मिले इस समय को सेहत, सुरक्षा और सावधानी के साथ और कहां और कैसे इस्तेमाल किया जा सकता है। आइए जानें....

1. घर की सफाई और सजावट
अक्सर कामकाजी लोग अपने घर की साफ-सफाई और सजावट के मामले में नौकरों पर निर्भर होते हैं या फिर घर का यह मामला उपेक्षित रहता है। अगर कोरोना की वजह से आपको घर पर काम मिला है तो सबसे पहले अपने घर को सुव्यवस्थित और सुनियोजित कीजिए। घर के हर कोने की स्वच्छता आपकी सेहत के लिए भी अच्छी है और घर के लिए भी। आप चाहे तो लंबे समय से घर की सजावट को बदलने का प्लान जो टल रहा था उसे पूरा कीजिए। घर की वे वस्तुएं जो पिछले 6 माह से काम में नहीं आई है उन्हें बाहर का रास्ता दिखाइए।

2. बिल और कागजात
अगर वक्त मिला है तो लंबे समय से जिन कागजों और बिलों को आपने हाथ नहीं लगाया है तो उन्हें खंगालिए। जो भी फालतू के बिल हैं उन्हें फाड़ कर फेंक दें। जो जरूरी कागजात हैं उन्हें तरतीब से जमाएं। अपना बॉयोडेटा अपडेट करें।

3. अपनी हेल्थ फाइल अपडेट करें
सेहत है तो दुनिया की हर खुशी है। इसलिए समय-समय पर आप और परिवार के लोगों को जो भी स्वास्थ्य परेशानी हुई है जिन भी डॉक्टर्स के प्रिस्क्रिप्शन आपके पास हैं उन्हें एक जगह एकत्र करें। शरीर एक है तो मेडिकल फाईल भी एक ही होनी चाहिए चाहे वह अलग-अलग डॉक्टर के द्वारा बताई गई एडवाइजरी हो। इस तरह परिवार के हर सदस्य की एक फाईल होना चाहिए। इस वक्त का इससे बेहतर उपयोग नहीं हो सकता है। अगर कोई परेशानी हो तो आपकी मेडिकल हिस्ट्री को जानने में डॉक्टर को सुविधा होगी।

4.रिश्तों की डोर मजबूत करें
दुनियादारी में व्यस्त हैं और हर किसी से दूर हैंतो अपने बचपन के साथियों को, करीबी रिश्तों को, सहयोगियों और पड़ोसी से फोन पर बतियाने का अच्छा अवसर है। एक दूजे के हालचाल जानिए। सुख-दुख जानिए और संबंधों को मजबूत कीजिए। उन्हें जरूरत हो और आपके बस में हो तो सहयोग कीजिए। जिंदगी में बस यही काम आएगा बाकी सब यहीं धरा रह जाएगा।

5. अपने शौक पूरे करें
लंबे समय से किताबों की धूल नहीं हटी है, आपकी गिटार किसी कोने में रखी है, कलर-ब्रश सूख रहे हैं, मनचाहा व्यंजन नहीं बना पाए हैं, अपनी बगिया माली के हवाले कर रखी है या फिर आंखें बंद कर के संगीत का आनंद नहीं लिया है तो यह वक्त इन सब बातों को कर ही डालने का है।

शौक कुछ भी हो सकता है अपने लिए अपने अपनों के लिए वक्त निकालिए। घर से बाहर ही नहीं घर के अंदर बहुत सुकून है इसे महसूस कीजिए। यह सूची लंबी हो सकती है अपनी सुविधा और रूचि के अनुसार.... आप अपने आप पर और परिवार पर नजर डालिए कि कहां क्या था जो लंबे समय से नहीं हो पा रहा था .. बस उसे इस कोरोना के कारण मिली छुट्टी पर कर डालिए।



और भी पढ़ें :