इंटरपोल की चेतावनी, कोरोना संक्रमित ‘चिट्ठी' से नेताओं को बनाया जा सकता है निशाना

Last Updated: शनिवार, 21 नवंबर 2020 (10:15 IST)
नई दिल्ली। दुनियाभर में
(Coronavirus) के बढ़ते कहर के बीच ने सभी देशों की प्रमुख एजेंसियों को चेतावनी देते हुए कहा है कि कोरोना संक्रमित ‘चिट्ठी' से नेताओं को निशाना बनाया जा सकता है।
इंटरपोल ने सभी देशों की प्रमुख एजेंसियों से कहा कि वह ऐसे पत्रों से सतर्क रहें, जो कोरोना संक्रमित हो सकते हैं। वैश्विक नेताओं को निशाना बनाने के लिए उन्हें इस तरह के संक्रमित पत्र भेजे जा सकते हैं।

इंटरपोल ने कहा कि ऐसे भी कुछ मामले सामने आए हैं, जहां राजनेताओं को कोरोना संक्रमित पत्र भेजे गए हैं। हालांकि, इंटरपोल ने ऐसे किसी भी नेता के नाम का जिक्र नहीं किया है, जिसे संक्रमित चिट्ठी भेजी गई हो।
दिशानिर्देशों में कहा गया है, 'जांच एजेंसियों के अधिकारियों, डॉक्टर्स और एशेंसियल वर्कर्स को डराने के लिए उनके चेहरे पर खांसने और थूकने के उदाहरण सामने आए है।



और भी पढ़ें :