Coronavirus की दूसरी लहर में संक्रमण से बचने के लिए कौनसा मास्क पहनें? पढ़िए सरकार के नए दिशा-निर्देश

Last Updated: सोमवार, 10 मई 2021 (22:50 IST)
नई दिल्ली। संक्रमण के खतरे से बचने के लिए सबसे कारगर हथियार मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग है। कोरोनावायरस की दूसरी लहर ने देश में हाहाकार मचा रखा है। संक्रमण के बीच मास्क को लेकर भी लोग गंभीर नहीं है। वायरस से बचाव के लिए मास्क को हमारी आदत बनाना होगा। कैसा मास्क आपको कोरोनावायरस से बचाएगा, इसके लिए सरकार ने दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

पहनने की सलाह : सरकार ने अपने दिशा-निर्देशों में कहा कि दूसरी लहर में संक्रमण से बचने के लिए डबल मास्क का प्रयोग करें। सरकार ने डबल मास्किंग के लिए कुछ दिशा-निर्देश जारी किए हैं। डबल मास्क में सर्जिकल मास्क और डबल या ट्रिपल लेयर वाला कपड़े का मास्क शामिल होना चाहिए। नाक को मास्क से अच्छी तरह ढंककर रखना चाहिए और बीच वाले हिस्से को कसकर दबाया जाना चाहिए।
एक रिचर्स के मुताबिक दो मास्क को सही तरह पहनने से SARS-CoV-2 आकार के कणों को छानने की प्रभावशीलता लगभग दोगुनी हो सकती है। इससे उन्हें पहनने वाले के नाक और मुंह तक पहुंचने से रोका जा सकता है।

कौनसा मास्क है सबसे उचित : दिशानिर्देशों के मुताबिक फिलहाल कोरोना के खिलाफ सबसे बेस्ट मास्क वह है जिसमें तीन-प्लाई हैं, फिट आता है और जिसमें सांस लेने में परेशानी नहीं होती है। ऐसे मास्क को आगे भी उपयोग के लिए धोया जा सकता है। अधिकांश कपड़े धोने और पहनने के बाद फैल जाते हैं। ऐसे कपड़े से बने मास्क की गुणवत्ता भी खराब हो सकती है और यह कोरोना के मुकाबले कम उपयोगी हो सकता है।

मास्क को रखने का सही तरीका : महामारी के प्रकोप के बीच मास्क को एक आदत बना लेना चाहिए। मास्क की देखभाल करना और सही तरीके से रखना आना चाहिए। कपड़े की गुणवत्ता के कारण मास्क कम प्रभावी होते हैं, जो कि समय के साथ आपके मुंह और नाक को ढंकने के लिए होता है।

धुलाई और रसायन भी उनके उपयोग को प्रभावित कर सकते हैं। यदि आप उन्हें सही तरीके से स्टोर नहीं करते हैं, विशेष रूप से मास्क जिनके पास नाक की क्लिप है, तो यह अगली बार पहनने के लिए कीटाणुओं के लिए ढीले अंतराल के लिए जगह छोड़ सकता है।

कब बदलें मास्क : अगर आप अपने मास्क की सही तरह सफाई नहीं कर रहे, सही से नहीं रख रहे या वह ढीला हो गया है तो आपको अपना मास्क बदल लेना चाहिए। हालांकि इसकी समय निर्धारित करना असंभव है।
मास्क खराब होना इस बात पर भी निर्भर करता है कि यह किस तरह के कपड़े का है, इसे कितनी बार धोया गया है, कितनी बार पहना है या आप कितनी बार मास्क उतारते हैं। जैसे अगर आप अधिक यात्रा करते हैं और वायरस के संपर्क में आते हैं तो मास्क बदलने के लिए समय भी अलग होगा और आपको उन्हें दूसरों की तुलना में अधिक बार बदलने की जरूरत होगी।



और भी पढ़ें :