ब्रिटेन ने Corona के प्रसार को रोकने के लिए किए यात्रा नियम सख्त

Last Updated: सोमवार, 15 फ़रवरी 2021 (19:45 IST)
लंदन। में संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सोमवार से यात्रा के नियम कड़े बना दिए गए जिसके तहत 33 उच्च खतरा वाले रेड लिस्ट देशों से ब्रिटेन लौटने वाले लोगों को आवश्यक रूप से होटल में क्वारंटाइन में रहना होगा।
यहां आने वाले लोगों को सरकार की तरफ से निर्धारित होटलों में 10 दिनों तक क्वारंटाइन में रहने के लिए पहले से बुकिंग करानी होगी और इसके लिए उन्हें 1750 पाउंड का भुगतान करना होगा। इसमें होटल का खर्च, परिवहन और पहुंचने के बाद 2 अलग-अलग जांच का खर्च शामिल है। नए मानकों का गंभीर उल्लंघन करने वालों को 10 वर्ष की जेल और 10 हजार पाउंड तक का जुर्माना हो सकता है।
जिन लोगों ने भारत जैसे रेड लिस्ट देशों का दौरा नहीं किया है, उन्हें 10 दिनों तक आवश्यक रूप से घर में क्वारंटाइन में रहना पड़ेगा और पहुंचने के दूसरे और 8वें दिन 2 आवश्यक कोविड-19 जांच करानी होगी।
ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने कहा कि नए स्वरूप के सामने आने के बाद हमें और आगे कदम बढ़ाना होगा। आज से लागू नियम क्वारंटाइन की व्यवस्था को और मजबूत बनाएंगे और सीमा पर नए स्वरूप के खिलाफ सुरक्षा का स्तर सुदृढ़ करेंगे।

उन्होंने कहा कि अपने टीकाकरण कार्यक्रम की रक्षा के लिए ये नए उपाय जरूरी हैं जिसके तहत अब तक 1.5 करोड़ लोगों को टीका लगाया जा चुका है। हम सभी सामान्य जीवन बहाल करने के लिए काम कर रहे हैं। ब्रिटेन या आयरलैंड का कोई भी निवासी जो उच्च खतरों वाले रेड लिस्ट देशों से लौट रहा है, उसे निर्धारित स्थल से इंग्लैंड में प्रवेश करना होगा और सरकार के प्रबंधन वाले किसी क्वारंटाइन केंद्र के लिए पहले से बुकिंग करानी होगी। कोरोनावायरस लॉकडाउन के आवश्यक यात्रा नियमों में गैर निवासियों को फिलहाल शामिल नहीं किया गया है। (भाषा)



और भी पढ़ें :