'मिस इंडिया अर्थ 2008' तन्वी व्यास से मुलाकात

मिलिए सौंदर्य की मलिका तन्वी से

WD
प्रश्न : क्या कारण है कि ऐश्वर्या राय, और प्रियंका चोपड़ा के बाद किसी और सुंदरी ने इतनी ख्याति अर्जित नहीं की? क्या इसे आप मल्टीनेशनल कंपनियों की भारतीय सुंदरियों के प्रति अनदेखी कहेंगी?
उत्तर : मुझे लगता है कि इसकी एकमात्र वजह मल्टीनेशनल कंपनियों की अनदेखी ही नहीं है, हो सकता है इस अनदेखी का कोई और कारण रहा हो।

प्रश्न : क्या हम तन्वी को किसी फिल्म, सीरियल या विज्ञापन में देख पाएँगे?
उत्तर : मैं विज्ञापनों में काम करने की कोशिश कर रही हूँ। जैसे-जैसे मुझे अच्छे ऑफर मिलेंगे, मैं उनमें जरूर काम करूँगी। बेशक जल्द ही आप मुझे टीवी पर देखेंगे।

गायत्री शर्मा|
  महिलाओं के पिछड़ेपन का एक कारण हमारे समाज की संकुचित सोच भी है। जो लोग आज भी महिलाओं को आगे आने नहीं देना चाहते हैं, मैं उनसे यही कहूँगी कि आप महिलाओं को कुछ कर दिखाने का मौका तो दें फिर वो अपना लक्ष्य खुद-ब-खुद हासिल कर लेंगी।       
प्रश्न : पेशे से ग्राफिक डिजाइनर तन्वी अब किस क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहती हैं?
उत्तर : मैं एक बिजनेस वूमेन बनना चाहती हूँ। मेरी बड़ी इच्छा है कि मैं स्वयं का एक लाइफ स्टाइल डिजाइनर स्टोर खोलूँ जहाँ डिजाइनिंग संबंधी हर प्रकार की प्रॉब्लम का हल मौजूद हो। उस स्टोर पर लोगों को अच्छे से अच्छे प्रोडक्ट व बेहतर सुविधाएँ मिलें। मेरा इस क्षेत्र में जितना भी अनुभव है, मैं चाहती हूँ कि उस स्टोर के माध्यम से मैं उन अनुभवों को लोगों में बाँट सकूँ। आज हमारे देश में ग्रूमिंग की बहुत ज्यादा जरूरत है क्योंकि यहाँ कई लोगों को पता ही नहीं होता है कि उन्हें क्या करना चाहिए इसलिए मैं एक ग्रूमिंग स्कूल भी खोलना चाहती हूँ।
PRPR
प्रश्न : छोटे शहर में भी संभावनाएँ हैं। तन्वी इसकी मिसाल बनी हैं, लेकिन आज भी इस देश में कई महिलाएँ पिछड़ी हैं, इसके पीछे क्या कारण हैं?उत्तर : पहले के मुकाबले अब में लड़कियों की स्थिति में बहुत कुछ सुधार आया है। मैं बहुत जगह घूमी हूँ, जिससे मुझे यह लगा है कि आज लड़कियाँ हर क्षेत्र में उन्नति कर रही हैं। उन्हें देखकर मुझे लगता है कि हम महिलाओं ने भी बहुत कुछ हासिल किया है। हालाँकि आज भी हमारे देश में कई ऐसे पिछड़े राज्य हैं, जहाँ महिलाओं की स्थिति बहुत खराब है। महिलाओं के पिछड़ेपन का एक कारण हमारे समाज की संकुचित सोच भी है। जो लोग आज भी महिलाओं को आगे आने नहीं देना चाहते हैं, मैं उनसे यही कहूँगी कि आप महिलाओं को कुछ कर दिखाने का मौका तो दें फिर वो अपना लक्ष्य खुद-ब-खुद हासिल कर लेंगी। प्रश्न : वेबदुनिया के यूजरों के लिए आप क्या कहना चाहेंगी? उत्तर : वेबदुनिया के सभी यूजरों को मेरी और मेरे परिवार की ओर से नववर्ष की ढेर सारी शुभकामनाएँ। आपके लिए यह नववर्ष बहुत अच्छा रहे तथा इस वर्ष आपको ढेर सारी खुशियाँ मिलें।



और भी पढ़ें :