0

रिटायर लोगों के लिए बेदी की अनूठी पहल बना 'फेरो क्लब'

रविवार,नवंबर 23, 2014
0
1
पर्यावरण महज प्राकृतिक संसाधनों से मिलकर नहीं निर्मित होता बल्कि सुखद पर्यावरण बनता है मानव और प्रकृति के बीच परस्पर सहज संबंध से। इसी संबध की नई परिभाषा रच रहे हैं प्रख्यात पर्यावरणविद् अनुपम मिश्र। वेबदुनिया से संक्षिप्त मुलाकात में अनुपम मिश्र ने ...
1
2
साहित्यकार तथा इतिहासकार डॉ. शरद पगारे शासकीय महाविद्यालय के प्राचार्य पद से सेवानिवृत्त होकर स्वतंत्र लेखन में संलग्न हैं। शिल्पकर्ण विश्वविद्यालय, बैंकाक में अतिथि प्राचार्य के रूप में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं। इतिहास विषय में में एम.ए. ...
2
3
मुख्यत: एक साहित्य लोचक के रूप में विख्यात डॉ. विजय बहादुर सिंह ने आधुनिक हिंदी कविता और कवियों की सृजनात्मक उपलब्धियों के साथ-साथ हिंदी कथा और उपन्यास साहित्य पर भी अपनी आलोचना प्रस्तुत की है। पेश है 4 भागों में उनका विस्तृत साक्षात्कार। ...
3
4
यह बात सत्य है कि कहीं न कहीं दर्द आपको हँसी के कारण देता है। जब कोई चीज कसकती या चुभती है तभी कविता उपजती है। मुझे तो मेरी माँ पर होने वाले अत्याचारों ने पहली कविता लिखने की प्रेरणा दी। एक संयुक्त परिवार में मेरी माँ के साथ जो कुछ हुआ, उसने मुझे ...
4
4
5
कराची। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियाँदाद ने कहा कि भारत की आईसीसी ट्वेंटी-20 विश्व कप के दूसरे चरण में ही बाहर होने से उन्हें हैरानी नहीं है क्योंकि क्रिकेट के इस छोटे प्रारूप में कुछ भी हो सकता है।
5
6
बुद्धि, कौशल हर चीज में किरण लड़कों से कम नहीं। 'लोग क्या कहेंगे' इस बात की किरण ने कभी भी परवाह नहीं करते हुए अपनी जिंदगी के मायने खुद निर्धारित किए। अपने जीवन व पेशे की हर चुनौती का हँसकर सामना करने वाली किरण बेदी साहस व कुशाग्रता की एक मिसाल हैं।
6
7
स्टार प्लस के डेली सोप 'क्योंकि सास भी कभी बहू थी' ‍में तुलसी का किरदार निभाने वाली बहू स्मृ‍ति ईरानी अब राजनीति के मैदान में भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय सचिव की भूमिका...
7
8
चल मेरे साथ ही चल, आया तेरे दर पर दीवाना...आदि गजलों में अपनी सुरीली आवाज का जादू बिखेरने वाले उस्ताद अहमद हुसैन और उस्ताद मोहम्मद हुसैन की जोड़ी का नाम आज भी गजल प्रेमियों की पसंदीदा जोड़ियों में शुमार है।
8
8
9
दारा सिंह अपने जमाने के एक कुशल अभिनेता व कुश्ती के प्रसिद्ध खिलाड़ी रहे हैं। आज भी 'रामायण' के 'हनुमान' के चरित्र को अपने कुशल अभिनय से अमरता प्रदान करने के कारण हनुमान के चित्रों में हमें दारा सिंह की छवि नजर आती है।
9
10
संगीत और गाय‍की के रियलिटी शो सारेगामा और इंडियन आइडल से जुड़े रहे सोनू निगम हिंदी फिल्मों के जानेमाने गायक कलाकार हैं। उनके कई गाने सुपरहिट हुए हैं।
10
11
कला तो दिल से उपजती है, बस जरूरत पड़ती है तो इसको निखारने की। ये मनुष्य को आराम के पल, मन की शांती और मानसिक सकून प्रदान करती है। ऐसा मानना है पंजाब के भटिंडा जिले के ख्यात चित्रकार अमरजीत सिंह का।
11
12
'मिस इंडिया अर्थ 2008' बनने का गौरव पाने वाली तन्वी एक ऐसी लड़की है, जिसने अपने सपनों को हकीकत बनाया है। पेशे से ग्राफिक डिजाइनर तन्वी के लिए मिस इंडिया अर्थ बनना किसी आश्चर्य से कम नहीं था। कहते हैं कि जब आपका भाग्य व आपकी मेहनत दोनों आपका साथ दें ...
12
13

एक मुलाकात शाहरुख के साथ

शुक्रवार,जनवरी 9, 2009
रब ने बना दी जोड़ी में सुरिंदर साहनी का किरदार निभाकर अपनी अलग छवि प्रस्तुत करने वाले शाहरुख खान के विचारों में इन दिनों बदलाव महसूस होता है। उनके लिए बेहद अहम इस फिल्म में काम करके उन्हें कैसा महसूस हुआ आइए जानते हैं उनकी जुबानी:
13
14
मुंबई में हुए आतंकवादी हमलों से क्षुब्ध योगाचार्य बाबा रामदेव का मानना है कि भारत को पाकिस्तान पर तुरंत हमला कर वहाँ स्थित आतंकवादियों के प्रशिक्षण शिविरों को ध्वस्त कर देना चाहिए। वे कहते हैं कि फिलहाल सरकार समय की बर्बादी कर रही है, जिससे देश को ...
14
15
रूबरू में इस बार मिलिए उर्दू के जाने-माने शायर राहत इंदौरी से, जिनकी शायरी ने हिन्दुस्तान ही नहीं वरन दुनिया के 45 मुल्कों में धूम मचा रखी है। राहत साहब ने अपनी शायरी का जो जादू फिल्मी दुनिया में बिखेरा है, वह वाकई काबिले तारीफ है। वेबदुनिया के भीका ...
15
16
रूबरू में इस बार मिलिए प्रसिद्ध व्यंग्यकार डॉ. शिव शर्मा से जो उज्जैन में प्रतिवर्ष आयोजित होने वाले टेपा सम्मेलन के प्रणेता हैं। शर्माजी पिछले 38 वर्षों से समाज की बड़ी-बड़ी हस्तियों को टेपा सम्मेलन के मंच पर बुलाकर उनकी कमियों पर हास्य-व्यंग्य के ...
16
17
सहारा वन के 'सुनो हर दिल कुछ कहता है' और स्टार प्लस के 'साथी' में अपने अभिनय और खुबसूरती के जलवे दिखा रही नवागत अदकारा श्रद्धा शर्मा के साथ की गई बातचीत के अंश:-
17
18

एक मुलाकात अमित के साथ

मंगलवार,नवंबर 18, 2008
पहले इंडियन आइडल से चर्चा में आए गायक और टेलीविजन अभिनेता अमित टंडन 'साथ साथ' और 'क्योंकि सास भी कभी बहू थी' जैसे सीरियल में लीड रोल निभा रहे हैं। हाल ही में उन्होंने खुद का 'तन्हा' एलबम रिलीज किया है तो आओ उनसे ही इस एलबम के संबंध में पूछते हैं।
18
19
विज्ञान और अंधविश्वास की जंग हमेशा से ही होती रही है। 'मानो या न मानो' के आधार पर यह विषय हमेशा से ही विवादास्पद रहा है। भूत, डरना मना है, वास्तुशास्त्र आदि डरावनी फिल्में बना चुके रामू की फिल्म 'फूँक' अंधविश्वास और काले जादू पर आधारित है। इस नए ...
19