मंगलवार, 23 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. लाइफ स्‍टाइल
  2. वीमेन कॉर्नर
  3. ब्यूटी केयर टिप्स
  4. kaolin clay benefits
Written By

क्या है Kaolin Clay? त्वचा हो जाएगी बेदाग और ग्लोइंग

kaolin clay benefits
kaolin clay benefits
आपने अपने स्किन केयर रूटीन में कई तरह के clay face pack का इस्तेमाल किया होगा। भारत में अधिकतर महिलाएं मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल करती हैं। साथ ही कई सेलिब्रिटीज के स्किनकेयर रूटीन में clay face pack शामिल होते हैं। मिट्टी हमारी त्वचा को गहराई से साफ़ करती है। साथ ही इसमें मौजूद मिनरल हमारी त्वचा को सॉफ्ट और बेदाग बनाते हैं। कई लोग काली मिट्टी का भी इस्तेमाल करना पसंद करते हैं। पर क्या आपने कभी काओलिन क्ले का इस्तेमाल किया है? केओलिन क्ले अलग-अलग रंग में पाई जाती है। साथ ही यह त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है। तो चलिए जानते हैं काओलिन क्ले से जुड़ी सारी जानकारी के बारे में....
 
क्या है काओलिन क्ले?
अगर आप किसी ब्रांड का क्ले मास्क लगाते हैं तो उसमें थोड़ी सी मात्रा में काओलिन क्ले भी मौजूद होती है। दरअसल काओलिन क्ले को वाइट क्ले और चाइना क्ले भी कहा जाता है। चीन में काओलिन क्ले प्राचीन काल से इस्तेमाल की जा रही है। चीन में इस मिट्टी को कई स्किन केयर प्रोडक्ट, टूथपेस्ट और हेयर प्रोडक्ट में इस्तेमाल किया जाता है। 
 
काओलिन क्ले आपकी त्वचा से एक्ने, ड्राई स्किन और अत्यधिक ऑयल को कंट्रोल करने में मदद करती है। काओलिन क्ले में anti-inflammatory, एंटी बैक्टीरियल और हीलिंग प्रॉपर्टीज होती है। इन गुणों के कारण काओलिन क्ले स्किन में जलन व खुजली की समस्या से भी राहत देती है। 
kaolin clay benefits

 
जानें काओलिन क्ले के अन्य फायदे
1. डायरिया से राहत: प्राचीन काल में इस मिट्टी को खाकर डायरिया की समस्या को कम किया जाता था। एक स्टडी के अनुसार इस मिट्टी में bismuth subsalicylate नामक एक तत्व है जो डायरिया की दवाई में भी पाया जाता है।
 
2. बालों के लिए फायदेमंद: मुल्तानी और काली मिट्टी की तरह इस मिट्टी को भी बालों के लिए इस्तेमाल किया जाता है। काओलिन मिट्टी को नेचुरल शैम्पू भी कहा जाता है। इसके इस्तेमाल से बालों में खुजली, डैंड्रफ और बैक्टीरिया जैसी समस्या से राहत मिलती है।
 
3. दांतों को साफ़ करने के लिए: काओलिन मिट्टी को टूथपेस्ट में भी इस्तेमाल किया जाता है। प्राचीन काल में चीन में इसे टूथपेस्ट की जगह इस्तेमाल किया जाता था। साथ ही आज भी कई टूथपेस्ट में इसको शामिल किया जाता है। 
 
कैसे करें काओलिन मिट्टी का इस्तेमाल?
1. काओलिन और ग्रीन टी मास्क: यह मास्क प्राचीन चीनी मास्क है। इसके लिए आपको 1 चम्मच काओलिन मिट्टी, उसमे एलो वेरा जेल। आप ग्रीन टी पाउडर का इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आपके घर में ग्रीन टी बैग मौजूद हैं तो आप उन्हें पहले पानी में उबाल लें और इसे ठंडा कर लें। इसके बाद आप इस पानी की मदद से काओलिन मास्क बना लें। पेस्ट चेहरे पर लगाने के बाद 15-20 मिनट तक सूखने का इंतज़ार करें और फिर साधारण पानी से मुंह धो लें। 
 
2. काओलिन और विनेगर मास्क: आप 1 चम्मच काओलिन मिट्टी में 1-2 चम्मच एप्पल विनेगर डालें। इसका अच्छे से पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगा लें। 10-15 मिनट तक पेस्ट का सूखने का इंतज़ार करें और साधारण पानी से मुंह धो लें। 
 
3. काओलिन और शहद मास्क: यह मास्क बनाना बेहद आसान है। इस मास्क को बनाने के लिए आप 1 चम्मच काओलिन मिट्टी में 1 चम्मच शहद डालें। फिर पेस्ट के गाढ़ेपन के अनुसार गुलाब जल डाल लें। इस मास्क को 10-15 मिनट तक लगाएं और फिर साधारण पानी से मुंह धो लें। 
 
4. आप इस मिट्टी को साधारण पानी या गुलाब जल के साथ मिलाकर भी लगा सकते हैं। 
ये भी पढ़ें
शिवांगी जोशी की skincare routine में शामिल हैं ये चीजें