0

गुरु का शुभ रत्न है पुखराज, जानिए येलो टोपाज और ब्लू टोपाज में अंतर

गुरुवार,जुलाई 28, 2022
Blue yellow Topaz
0
1
मोती एक ऐसा रत्न है, जो अमृत का काम करता है। यह आपकी हर इच्छा को पूर्ण करने की क्षमता रखता है। मोती एक दमकता-चमकता रत्न है, जो हर किसी को पसंद आता है। इसकी गुलाबी आभा आकर्षण के साथ-साथ जीवन की कई बड़ी समस्याओं को दूर करने में सक्षम है।
1
2
firoza ratna : फिरोजा रत्न पुखराज का उपरत्न माना जाता है। फिरोजा रत्न का उपयोग ज्योतिष के साथ ही आभूषण बनाने में भी होता है। यह रत्न गहरे आसमानी रंग का होता है। फिरोजा रत्न को धारण करने के कोई नुकसान अभी तक नहीं जाने गए इसलिए इसे कोई भी पहन सकता है। ...
2
3
Gems Stone : आप सभी जानते ही होंगे कि रत्न शास्त्र में बहुत से रत्नों के बारे में उल्लेख मिलता है। इन रत्नों का असर हमारे जीवन पर पड़ता है। जी हाँ और कुंडली में कमजोर ग्रहों या फिर किसी भी ग्रह की स्थिति का असर हमारे व्यक्तिगत जीवन पर भी पड़ता है और ...
3
4
Pukhraj dharan karne ke labh : पुखराज को अंग्रेजी में टोपाज़ कहते हैं। यह रत्न बृहस्पति ग्रह का रत्न है। पुखराज छह रंगों में पाया जाता है- पीले, पीला-भूरा, फ्रलैक्स, भूरा, हरा, नीला हल्का नीला, लाल, गुलाबी आदि। खासकर यह हल्दी रंग में, केसरिया, नीबू ...
4
4
5
Manikya: यदि आपकी कुंडली में सूर्य ग्रह नीच का है या किसी शत्रु ग्रह के साथ बैठा है तो उसे मजबूत बनाने के लिए ज्योतिष की सलाह पर माणिक्य रत्न पहनकर अपनी किस्मत को चमका सकते हैं क्योंकि सूर्य के शुभ फल देने से जातक शासन प्रशासन सहित उच्च क्षेत्र में ...
5
6
ज्योतिष विज्ञान (Astrology) में गोमेद को एक खूबसूरत रत्न माना गया है, जो जीवन को सुंदर बना देता है। गोमेद सबसे लाभदायक रत्नों में से एक माना गया है। गोमेद (Gomed Ratna) राहु ग्रह से संबंधित रत्न माना गया है।
6
7
Ratna dharan karne ke niyam : किसी भी प्रकार का रत्न या धातु धारण करने के पहले किसी ज्योतिष से सलाह जरूर लेना चाहिए क्योंकि प्रत्येक रत्न का अपना अलग प्रभाव होता है। किसे कौनसा रत्न पहनना चाहिए और कौनसा नहीं यह जानना भी जरूरी है। आओ जानते हैं रत्न ...
7
8
सोना, स्वर्ण यानी गोल्ड पहनने के जिस तरह फायदे हैं उसी तरह नुकसान भी। इस तरह गोल्ड को गिफ्ट देने के फायदे भी हैं और नुकसान भी। आओ जानते हैं इस संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी।
8
8
9
Diamond stone benefits astrology in hindi : हीरा का अंग्रेजी में डायमंड कहते हैं। हीरा नहीं पहन सकते हैं तो इसका उपरत्न है- ओपल, जरकन, फिरोजा और कुरंगी। सभी को अपनी राशी या कुंडली के आधार पर ही पहनना चाहिए। आओ जानते हैं कि हीरा पहनने के क्या फायदे ...
9
10
Pukhraj dharan karne ke labh :पुखराज रत्न बृहस्पति ग्रह से संबंधित रत्न है जो छह रंगों में पाया जाता है- पीले, पीला-भूरा, फ्रलैक्स, भूरा, हरा, नीला हल्का नीला, लाल, गुलाबी आदि रंग में मिलता है लेकिन कभी-कभी इसका कोई रंग नहीं होता है। खासकर यह हल्दी ...
10
11
हीरा मालामाल भी कर सकता है और कंगाल भी। कई लोग शौक के तौर पर तो कई लोग दिखावे के लिए हीरा पहनने हैं। हीरे की अंगुठी या नेकलेस पहनते हैं। प्राचीन समय में रानियां हीरे का मुकुट पहनती थीं। आओ जानते हैं कि हीरा पहनने के क्या फायदे और क्या नुकसान है। ...
11
12
पन्ना रत्न बुध ग्रह का रत्न होता है। बुध ग्रह करियर, व्यापार और नौकरी को प्रभावित करता है। मिथुन और कन्या राशि का ग्रह स्वामी बुध होता है। हालांकि किसी भी रत्न को पहनने के पूर्व आपको अपनी कुंडली या जन्म पत्रिका की जांच जरूर कर लेना चाहिए फिर ही ...
12
13
ज्योतिष शास्त्र में रत्न पहनने के पूर्व कई निर्देश दिए गए हैं। रत्नों में मुख्यतः नौ ही रत्न ज्यादा पहने जाते हैं। सूर्य के लिए माणिक, चन्द्र के लिए मोती, मंगल के लिए मूंगा, बुध के लिए पन्ना, गुरु के लिए पुखराज, शुक्र के लिए हीरा, शनि के लिए नीलम, ...
13
14
शनि ग्रह को बलवान करने, शनि की साढ़े साती, शनि की ढैय्या, दशा, महादशा या अन्तर्दशा में या शनि संबंधी किसी भी प्रकार की पीड़ा को शांत करने के लिए शनि के रत्न पहने जाते हैं। रत्नों के अलावा भी और भी कुछ पहना जाता है। आओ जानते हैं सभी के संबंध में ...
14
15
Zodiac Sign Astrology : ज्योतिष मान्यता के अनुसार कुछ ऐसे रत्न होते हैं जिन्हें कुछ राशियों वाले जब पहनते हैं तो उनकी किस्मत बदलकर चमक जाती है, परंतु यदि यही रत्न दूसरी राशि वाले पहन लें तो उनके बुरे दिन प्रारंभ हो जाते हैं। आओ जानते हैं कि ऐसा ...
15
16
नीलम को नीलमणि कहा जाता है। यह कई प्रकार की होती है। शनि का रत्न नीलम और नीलमणि में फर्क है। संस्कृत में नीलम को इन्द्रनील, तृषाग्रही नीलमणि भी कहा जाता है। आओ जानते हैं नीलमणि के 6 रहस्य।
16
17
ज्योतिष की मान्यता है कि रत्न या स्टोन आपकी किस्मत पलट सकते हैं। ऐसे कई रत्न हैं जो बुरे दिन समाप्त करके अच्छे दिन ला देते हैं। परंतु यह भी कहा जाता है कि यदि कोई रत्न राशि या कुंडली के अनुसार नहीं पहना है तो नुकसान भी पहुंचा सकता है। हम जिस रत्न की ...
17
18
ज्योतिष के अनुसार रत्नों को उनकी राशि के साथ ही कुंडली में स्थित ग्रहों की स्थिति के अनुसार ही पहनना चाहिए क्योंकि यह नुकसानदायक भी हो सकते हैं और फायदेमंद भी। आओ जानते हैं कि यदि आपने पुखराज और पन्ना पहन रखा है तो क्यों हो जाएं सावधान और क्या होगा ...
18
19
पुखराज को अंग्रेजी में टोपाज़ कहते हैं। पुखराज को गुरु ग्रह का रत्न माना जाता है। इसे पहनने गुरु ग्रह बलवान होता है, परंतु यह भी जान लेना चाहिए कि यह रत्न किसे पहनना चाहिए और किसे नहीं अन्यथा यह नुकसान दे सकता है। पुखराज यूं तो पीला होता है परंतु यह ...
19