शनि ग्रह, तेल और शराब, जानिए उपाय

Shani Dev Remedies
लाल किताब के अनुसार शनिवार के दिन मात्र 5 तरह के उपाय करने से शनि दोष दूर हो सकता है। शनि की साढ़ेसाती, ढैय्या आदि सभी तरह की शनि पीड़ा को शांत किया जा सकता है।

1. पीने वाले पर शनि भगवान की वक्र दृष्टि बनी रहती है। शनिवार को शराब पीना सबसे घातक माना गया है। इससे आपके अच्छे-भले जीवन में तूफान आ सकता है।

2. शनिवार के दिन भैरव महाराज को शराब अर्पित करने से शनि दोष समाप्त हो जाते हैं।

3. शनिवार को एक कांसे की कटोरी में सरसों का और सिक्का (रुपया-पैसा) डालकर उसमें अपनी परछाई देखें और तेल मांगने वाले को दे दें या किसी शनि मंदिर में शनिवार के दिन कटोरी सहित तेल रखकर आ जाएं। यह उपाय आप कम से कम पांच शनिवार करेंगे तो आपकी शनि की पीड़ा शांत हो जाएगी और शनिदेव की कृपा शुरू हो जाएगी।
4. शनि महाराज तो तेल चढ़ाने से भी शनि दोष दूर होते हैं। कहते हैं शनि महाराज की पीड़ा दूर करने के लिए हनुमानजी ने उनके शरीर पर तेल की मालिश की थी। इसीलिए तभी से उन पर तेल चढ़ता है।

5. शनिवार को पीपल के पेड़ में शाम को जल चढ़ाएं और तिल के तेल का दीपक जलाएं। ऐसा कम से कम 11 शनिवार करें। मान्यता अनुसार शनि देव के दुष्प्रभाव से बचने के लिए शनिवार के दिन पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाना चाहिए। कहते हैं कि ऐसा करने से खत्म होता है।



और भी पढ़ें :