Mercury Transit in 2021 : वर्ष 2021 में कैसा होगा बुध का गोचर


जिस भी ग्रह के साथ युति करता है उस ग्रह के अनुसार ही व्यवहार करने लगता है। यह राशि चक्र की दो राशियों, मिथुन और कन्या का स्वामी है। कन्या राशि में यह ग्रह उच्च का होता है और बृहस्पति की राशि मीन में यह नीच का होता है। अपने गोचर के दौरान बुध किशोर ऊर्जा, उत्सुकता, जोश, जुनून और उत्साह से लोगों के जीवन को प्रभावित करता है। आइए वर्ष 2021 के दौरान बुध गोचर की तिथियों और समय पर एक नज़र डालते हैं...

राशि से -राशि में- दिनांक- दिन -समय
धनु -मकर -5 जनवरी -मंगलवार -3:42
मकर -कुंभ -25 जनवरी -सोमवार -16:19
कुंभ- मकर- 4 फरवरी -बृहस्पतिवार- 23:18
मकर- कुंभ -11 मार्च- बृहस्पतिवार- 12:25
कुंभ- मीन -1 अप्रैल -बृहस्पतिवार- 0:33
मीन -मेष -16 अप्रैल -शुक्रवार -20:49
मेष -वृषभ -1 मई- शनिवार- 5:32
वृषभ- मिथुन- 26 मई -बुधवार -7:50
मिथुन- वृषभ -3 जून- बृहस्पतिवार -3:46
वृषभ- मिथुन -7 जुलाई- बुधवार -10:59
मिथुन- कर्क- 25 जुलाई -रविवार -11:31
कर्क- सिंह -9 अगस्त -सोमवार -1:23
सिंह -कन्या- 26 अगस्त- बृहस्पतिवार- 11:08
कन्या -तुला -22 सितंबर -बुधवार -7:52
तुला- कन्या- 2 अक्टूबर- शनिवार- 3:23
कन्या- तुला- 2 नवंबर- मंगलवार- 9:43
तुला- वृश्चिक- 21 नवंबर- रविवार- 4:37
वृश्चिक -धनु -10 दिसंबर -शुक्रवार- 5:53



और भी पढ़ें :