शांति के प्रतीक श्वेत कपोत छोड़े

नीमच | Naidunia| पुनः संशोधित शनिवार, 28 जनवरी 2012 (01:39 IST)
जिलेभर में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। शासकीय- अशासकीय कार्यालयों, संस्थाओं तथा विद्यालयों में ध्वजारोहण किया गया। जिला मुख्यालय पर मुख्य में प्रभारी कलेक्टर रवि डफरिया ने ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली और मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन किया।


शा. बालक उमा विद्यालय क्र. 2 के मैदान पर आयोजित समारोह में श्री डफरिया ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीष अग्रवाल के साथ जिप्सी पर सवार होकर परेड का निरीक्षण किया। आकाश में शांति के प्रतीक सफेद कपोत एवं रंग-बिरंगे गुब्बारे भी छोड़े गए। सीआरपीएफ व पुलिस बैंड की सुमधुर धुन के साथ तीन हर्ष फायर किए गए। परेड कमांडर योगेन्द्र परिहार एवं उपकमांडर सुबेदार विक्रम धार्वे के नेतृत्व में आकर्षक परेड हुई। परेड में सबसे आगे सीआरपीएफ की टुकड़ी उपनिरीक्षक मदनलाल के नेतृत्व में चल रही थी। उसके बाद क्रमशः श्याम नारायण मिश्रा के नेतृत्व में एएसएफ की टुकड़ी, उपनिरीक्षक एसके झांझोट के नेतृत्व में जिला पुलिस बल की टुकड़ी तथा प्लाटून कमांडेंट सीएल गुलोरिया के नेतृत्व में नगर सेना की टुकड़ी ने परेड प्रस्तुत की। इसी तरह अभिषेक हाड़ा के नेतृत्व में शा. उत्कृष्ट उमावि की एनसीसी जूनियर, मोहन डांगी के नेतृत्व में शाउमावि क्र.2 की एनसीसी जूनियर, नेहा भामावत के नेतृत्व में उत्कृष्ट विद्यालय की एनसीसी छात्राओं एवं खुशबू राठौर के नेतृत्व में शा. कन्या उमावि नीमच केंट के जूनियर गाइड दल ने प्लाटून कमांडेंट एके मुखर्जी के नेतृत्व में सीआरपीएफ बैंड की धुन के साथ कदम से कदम मिलाकर आकर्षक परेड प्रस्तुत की। समारोह में मुख्य अतिथि द्वारा जिला प्रशासन की ओर से गोपाल खंडेलवाल, प्रहलाद बंसल, बाबूलाल अग्रवाल, भगवानदास खंडेलवाल, कन्हैयालाल पाटीदार, घीसीबाई बैरागी सहित 12 लोकतंत्र रक्षकों को शॉल-श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया गया। 11 मेधावी विद्यार्थियों को भी पुरस्कृत किया गया। सेमलीमेवाड़ की सरपंच संपतबाई कुराड़िया को 25 हजार रुपए पुरस्कार राशि भेंट कर सम्मानित किया गया। समारोह में सामूहिक पीटी प्रदर्शन किया गया। एनिमेंट स्कूल, रेडक्रॉस मूक-बधिर विद्यालय, कॉर्मल कॉन्वेंट, स्प्रिंगवुड, शाउमावि नीमच सिटी के विद्यार्थियों ने देशभक्ति के कार्यक्रम प्रस्तुत किए। विभिन्ना विभागों द्वारा 13 आकर्षक झाँकियाँ भी निकाली गईं। झाँकियों में जिला पंचायत की समग्र विकास, पंच-परमेश्वर योजना पर आधारित झाँकी को प्रथम, स्वास्थ्य विभाग की लिंग परीक्षण एवं बेटी बचाओ अभियान की झाँकी को द्वितीय तथा सर्वशिक्षा अभियान के मोबाइल शिक्षा रथ की झाँकी को तृतीय पुरस्कार दिया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में कार्मल कॉन्वेंट को प्रथम, नीमच एनिमेंट को द्वितीय एवं स्प्रिंगवुड स्कूल की प्रस्तुति को तृतीय पुरस्कार मिला। मार्चपास्ट परेड के लिए प्रथम समूह में सशस्त्र पुलिस बल को प्रथम, सीआरपीएफ को द्वितीय एवं जिला पुलिस बल को तृतीय, द्वितीय समूह में एनसीसी जूनियर प्लाटून उत्कृष्ट विद्यालय को प्रथम, एनसीसी जूनियर शाउमावि क्र. 2 नीमच को द्वितीय एवं रेडक्रॉस दल नीमच सिटी को तृतीय पुरस्कार दिया गया। सामूहिक पीटी प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों के दल को शील्ड एवं प्रशस्ति-पत्र देकर सम्मानित किया गया। छात्र राहुल पिता गोपाल निवासी जीरन को प्रस्तुत गीत के लिए सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. बीणा चौधरी, मंजुला धीर एवं एनडीएस बीआर उपाध्याय ने किया। समारोह में जिला न्यायाधीश आरएन पटेल, पुलिस अधीक्षक टी अमोग्ला अय्यर, वन मंडलाधिकारी, मनोज अर्गल, नगर पालिका अध्यक्ष नीता दुआ, उपाध्यक्ष महेन्द्र भटनागर, पूर्व विधायक दिलीपसिंह परिहार, हेमंत हरित, अशोक जोशी, लक्ष्मीनारायण धाकड़, मुख्य कार्यपालन अधिकारी मालसिंह, संयुक्त कलेक्टर जीडी गुप्ता, जीआर पटले, एसडीएम अनिल पटवा, डिप्टी कलेक्टर नेहा भारती, न्यायाधीशगण, पार्षद, गणमान्य नागरिक, बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएँ और शिक्षकगण उपस्थित थे।



और भी पढ़ें :