महामृत्युंजय रथयात्रा - पंचम वर्ष आयोजन

महेश्वर| WD| पुनः संशोधित शनिवार, 8 जनवरी 2011 (18:45 IST)
हमें फॉलो करें
WD
WD
महामृत्युंजय न्यास द्वारा प्रतिवर्ष मकर संक्रांति के पूर्ववर्ती रविवार को, माँ देवी अहिल्या के प्रांगण-पवित्र नर्मदा नदी के किनारे बसे नगर महेश्वर (जिला-खरगोन, मप्र) में 'महामत्युंजय-रथयात्रा' का आयोजन किया जाता है।


गुरुदेव 'आपसा' की करूणा एवं प्रेरणा से निकलने वाली रथयात्रा अद्वितीय है, जो केवल निमाड़ ही नहीं अपितु संपूर्ण धरा का गौरव है।

'समाज की सबसे अंतिम पंक्ति में खड़े मानवों को भी 'मृत्युंजय रथ' को खींचने का समान एवं सुलभ अवसर उपलब्‍ध कराया जाए। श्री आपसा की इसी भावना को साकार एवं मूर्त रूप देने के लिए जन-जन को अनुनय विनयपूर्वक स्नेहिल आमंत्रण दिया जाता है।

रथयात्रा में सम्मिलित सभी श्रद्धालुजन सामूहिक रूप से 'महामृत्युंजय-शिव' के पावन रथ को अपने हाथों से खींचते हैं। सर्वजन हिताय-सर्वजन सुखाय की भावना से यह आयोजन 'मृत्युंजय-न्यास द्वारा किया जाता है। ज्ञातव्य है कि न्यास का संचालन गृहस्थ महिलाओं द्वारा ही किया जाता है।


इस वर्ष 'महामृत्युंजय-रथयात्रा' का आयोजन 9 जनवरी 2011 रविवार को किया जा रहा है। रथयात्रा स्वाध्याय-भवन प्रांगण, महालक्ष्मीनगर कालोनी, महेश्वर से मध्याह्न 12.30 बजे प्रारंभ होकर जय स्तंभ चौराहे से नगर भ्रमण करते हुए बाजार चौक से नाव-घाट नर्मदा तट पर सायंकाल 5.30 बजे पहुँचेगी।
नर्मदा तट नाव-घाट पर माँ रेखा की आरती के साथ निमाड़ी कविताओं व भजन की प्रस्तुति होगी, साथ ही भगवान महामृत्युंजय के दर्शन रात्रि 8.00 बजे तक होते रहेंगे। (वेबदुनिया न्यूज)



और भी पढ़ें :