देश में अब तक का सबसे बड़ा हमला

100 से अधिक की मौत, 300 घायल

मुंबई (एजेंसियाँ)| भाषा|
देश की वित्तीय राजधानी मुम्बई बुधवार देर रात भीड़भाड़ वाले सीएसटी रेलवे स्टेशन, दो पंच सितारा होटलों (ओबेराय और ताज) समेत लगभग दर्जनभर स्थानों पर हुए संगठित श्रृंखलाबद्ध विस्फोटों और गोलीबारी से दहल गई। इसमें 100 से अधिक लोगों की मौत हो गई, जबकि 300 से अधिक घायल हो गए।

कोलाबा के लियोपोल्ड रेस्तराँ में पहला हमला रात्रि साढ़े नौ बजे हुआ, जहाँ आतंकवादियों ने अंधाधुंध गोलीबारी की। स्थिति से निपटने के लिए सेना को लगाया जा रहा है और दिल्ली से 200 एनएसजी कमांडो मुम्बई भेजे गए हैं, क्योंकि आतंकवादियों ने जीटी और कामा अस्पतालों को भी निशाना बनाया है। इस हमले में पुलिस के तीन बड़े अधिकारी विजय सालस्कर, अशोक कामटे और हेमंत करकरे समेत कई पुलिसकर्मी शहीद हुए हैं।
पुलिस और प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार अज्ञात संख्या में आतंकवादियों ने एके 47 राइफल और हथगोले से कई स्थानों को निशाना बनाया। इस बीच अस्पताल सूत्रों ने बताया कि सेंट जॉर्ज अस्पताल में 60 लोगों के शव और 200 घायलों को लाया गया है।

गिरगाँव क्षेत्र में स्कोडा कार से फरार होने का प्रयास कर रहे दो संदिग्ध आतंकवादियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया। कई बमों को निष्क्रिय भी किया गया है।
पुलिस ने कहा कि आतंकवादी अभी भी ओबेरॉय और ताज होटल में हैं और कमांडो इन होटलों में प्रवेश कर गए हैं तथा मुठभेड़ जारी है। ताज होटल में दो विस्फोट हुए। जुहू स्थित मैरियट होटल को भी निशाना बनाया गया है।

प्रत्यक्षदर्शी हांगकांग में रहने वाले लंदन के कारोबारी राकेश पटेल ने बताया कि लगभग 20 वर्ष उम्र वर्ग के दो युवक होटल के रेस्तराँ में आए और 15 लोगों को होटल की छत पर ले गए।
उन्होंने कहा कि दो युवक हमें होटल की छत पर ले गए। हमें होटल की 18वीं मंजिल पर ले जाया गया, जहाँ से मैं बचकर भाग निकला। एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि आतंकवादी यह जानना चाहते थे कि क्या किसी के पास अमेरिकी या ब्रिटिश पासपोर्ट है।

मुंबई क्राइम ब्रांच ने खुलासा किया है कि आतंकवाद‍ियों ने फिरौती की माँग की है, सेना के कमांडो ने अपना ऑपरेशन शुरू कर दिया है महाराष्‍ट्र के उप-मुख्‍यमंत्री आरआर पाटिल के अनुसार होटल ओबेरॉय में 100 से 200 तक मेहमान हो सकते हैं, जबकि 10 से 12 आतंकवादी भी अंदर हो सकते हैं।
एक अन्‍य जानकारी के मुताबि‍क आतंकवादी युवा मिली-जुली ह‍िंदी और उर्दू भाषा बोलने वाले दक्षि‍ण एशियाई हैं।

ताजा जानकारी के अनुसार ताज होटल में 60 से 70 लोग मारे गए हैं जिनमें से 14 से 15 होटल ताज के ही कर्मचारी हैंहोटल ताज का हेल्‍पलाईन नंबर: 022-23890606 है

डेक्कन मुजाहिदीन ने ली जिम्मेदारी : जानकारी के मुताबिक आतंकवादी संगठन डेक्कन मुजाहिदीन ने मीडिया हाउसेस को ई-मेल भेजकर आतंकी हमलों की जिम्मेदारी ली है। इसी बीच पूरे शहर में आरएएफ ( रेपिड एक्शन फोर्स) की टुकड़ियाँ तैनात कर दी गई हैं। देश को अस्थिर देखना चाहते हैं आतंकी
एटीएस प्रमुख हेमंत करकरे शहीद
आतंकवादी हमलों का इतिहास
एटीएस को मिला था धमकी भरा मेल
आतंकियों को बख्शेंगे नहीं-देशमुखमनमोहन ने हमले की निंदा की
आडवाणी ने मनमोहनसिंह से बात की
गिरगाँव में दो आतंकवादी ढेर
लोकल ट्रेनों की आवाजाही बंद
गुजरात में हाई अलर्ट घोषितपश्चिम बंगाल में अलर्ट जारी
नावों में आए थे आतंकी-देशमुख

 

और भी पढ़ें :