ओलिम्पिक स्वर्ण ज्यादा महत्वपूर्ण-ब्रायंट

मकाऊ (एजेंसी)| ND|
जाने-माने अमेरिकी बास्केटबॉल खिलाड़ी कोबे ब्रायंट ने कहा कि ओलिम्पिक स्वर्ण पदक जीतना एनबीए खिताब से ज्यादा महत्वपूर्ण है। तीन बार के एनबीए चैंपियन ब्रायंट अमेरिका को पुनः बास्केटबॉल का ओलिम्पिक स्वर्ण पदक दिलाने के अभियान की अगुवाई कर रहे है।

ब्रायंट ने कहा कि ओलिम्पिक में खिलाड़ी अपने देश का प्रतिनिधित्व करता है, इस लिहाज से देखा जाए तो यह एनबीए चैंपियनशिप से ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाता है। जब आप अमेरिकन जर्सी पहनते है तो आपकी जिम्मेदारी बढ़ जाती है। आपका मुकाबला दूसरे देशों से होता है और इस वजह से दायित्व बड़ा होता है।

अमेरिका पिछले कई वर्षों से एनबीए खिलाड़ियों की सेवाएँ लेने का प्रयास कर रहा था। 2004 में एथेंस ओलिम्पिक खेलों तथा 2006 विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक पर संतोष करने वाली अमेरिकी टीम को इस बार बीजिंग में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी।
2000 सिडनी ओलिम्पिक के बाद से अपने पहले स्वर्ण की तलाश में जुटी अमेरिकी टीम को इस बार ब्रायंट के अलावा लीब्रॉन जेम्स तथा कार्मेलो एंथोनी की सेवाएँ भी उपलब्ध है। ड्वेन वेड, ड्वाइट हॉवर्ड तथा 2000 की स्वर्ण पदक विजेता टीम के सदस्य जेसन किड भी टीम के साथ है।

ब्रायंट ने कहा कि हम यहाँ गंभीर मिशन पर आए है और ऐसा मौका जीवन में एकाध बार ही मिलता है। इसलिए इस बार हमारा ध्यान पूरी तरह खेल पर केंद्रीत रहेगा। ओलिम्पिक के बाद वे अपने दाएँ हाथ की उंगली का ऑपरेशन करवाएँगे।



और भी पढ़ें :