गुरुवार, 2 फ़रवरी 2023
  1. लाइफ स्‍टाइल
  2. »
  3. एनआरआई
  4. »
  5. खास खबर
Written By WD
पुनः संशोधित बुधवार, 1 मई 2013 (17:09 IST)

विश्वमोहन भट्‍ट ने श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया

अमेरिका। ग्रैमी पुरस्कार विजेता और स्लाइड गिटार वादक पंडित विश्वमोहन भट्‍ट ने 14 अप्रैल को यहां बर्मिंघम म्यूजियम ऑफ आर्ट में अपने दिल को छू लेने वाले संगीत से उपस्थित श्रोताओं से मंत्रमुग्ध कर दिया। उनके साथ अंतरराष्ट्रीय प्रसिद्धि प्राप्त तबला वादक पंडित सुभेन चटर्जी भी थे।

प‍ंडित रविशंकर के प्रमुख शिष्यों में से एक विश्वमोहन भट्‍ट एक बेजोड़ संगीतकार हैं जिन्होंने मोहनवीणा का आविष्कार किया है। वे बहुमुखी प्रतिभा के धनी और महानतम स्लाइड प्लेयर हैं। उन्हें हवाइयन गिटार का भारतीयकरण करने के लिए भी जाना जाता है। वे वीणा, सितार और सरोद तकनीकों को परिपूर्ण मेल कराते हैं।

सुभेन चौधरी ने तबले पर अपनी प्रतिभा दिखाई और वे तबला वादन की अपनी अलग शैली के लिए जाने जाते हैं। उन्हें भारतीय संगीत के साथ समकालीन जैज, अफ्रो-क्यूबान और भूमध्यसागरीय देशों के संगीत का फ्यूजन कराने में महारत हासिल है। बर्मिंघम कल्चरल सोसायटी ने इस संगीत कार्यक्रम का प्रायोजन किया था।