पाकिस्तान ने ही पैदा किया आतंकवाद-जरदारी

इस्लामाबाद (वार्ता) | वार्ता| पुनः संशोधित बुधवार, 8 जुलाई 2009 (23:01 IST)
के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने स्वीकार किया है कि और को इस्लामाबाद ने इसलिए पैदा किया, क्योंकि इससे उसके रणनीतिक मकसद पूरे होते थे।

जरदारी ने मंगलवार को अपने निवास पर वरिष्ठ अधिकारियों और सेवानिवृत्त संघीय सचिवों से मुलाकात के दौरान कहा कि हमें अपने प्रति ईमानदारी बरतते हुए सच्चाई को स्वीकार करना होगा।

जरदारी ने कहा कि देश में आतंकवाद और कट्टरपथ की जो चुनौती सामने आई, इसकी वजह केवल यह नहीं थी कि नौकरशाही का मनोबल गिरा हुआ था और वह कमजोर हो गई थी, बल्कि इसका एक कारण यह भी था कि कुछ रणनीतिक उद्देश्यों को तुरतफुरत हासिल करने के लिए इन्हें पालने-पोसने की नीति बनाई गई।
डेली टाइम्स के अनुसार जरदारी ने कहा कि आज मुल्क टूटने के रास्ते पर है और इसकी वजह तालिबान और अन्य आतंकी संगठनों से मिलने वाली चुनौतियाँ हैं। न्यूयॉर्क में नौ सितम्बर को वर्ल्ड ट्रेड टॉवर पर हुए हमले से पहले जिन लोगों को हीरो का दर्जा मिला, बाद में उन्हें आतंकवादी माना गया।

राष्ट्रपति ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई, प्रांतीय स्वायत्तता, ऊर्जा संकट, कृषि विकास और अन्य देशों के साथ संबंधों पर भी चर्चा की।



और भी पढ़ें :