• Webdunia Deals
  1. लाइफ स्‍टाइल
  2. »
  3. सेहत
  4. »
  5. यूँ रहें स्वस्थ
Written By WD

सेहत की दोस्त : हरी सब्जियाँ

सेहत की दोस्त : हरी सब्जियाँ -
ND
आज के इस आपाधापी वाले युग में दुनिया के सभी पुरुष व महिलाएँ स्वास्थ्य तथा सौंदर्य चाहते हैं किंतु कोई भी प्राकृतिक आहार-विहार, दिनचर्या अपनाने को तैयार नहीं होता। इसका सबसे बड़ा कारण है बाजारों में बढ़ता डिब्बाबंद आहार का चलन, रेडीमेड खाद्य पदार्थ, हॉटडॉग, फास्ट फूड्स इन सभी का मानवीय जीवन में बहुत मात्रा में इस्तेमाल होने लगा है। मनुष्य के जीवन जीने के रंग-ढंग ही बदल गए हैं।

अगर हम इन स्थितियों से बचना चाहते हैं तो हमें अपना खान-पान बदलना होगा तभी हमारी जीवन पद्धति में सुधार होगा और हम अपना स्वास्थ्य और सौंदर्य कायम रख पाएँगे। और इस आहार में हरी सब्जियों का सेवन ही हमारे जीवन की महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

हरी सब्जियों से हमें शरीर के लिए आवश्यक वे सभी तत्व मिल जाते हैं, जो हमारे शरीर को रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करते हैं। इसके नियमित सेवन से पाचनतंत्र में सुधार, लावण्य में वृद्धि और हमारे शरीर को पौष्टिकता भी प्राप्त होती है। जिसका असर आपके चेहरे और शरीर पर आसानी से देखा जा सकता है।

हरी सब्जियों के लाभ!

* गोभी, आलू, बीन्स आदि शरीर के विविध भागों, तत्वों, मात्राओं को प्रभावित करते हैं।
* अदरक, धनिया, पुदीना, हरी मिर्च सब्जियों के तत्वों एवं स्वाद को बढ़ाने में मदद करते हैं।
* लहसुन खून का थक्का जमने नहीं देती अतः हृदय रोग में लाभकारी है।
* करेला पेट के कृमि नष्ट करता है। और रक्त शोधन कर, अग्नाशय को सक्रिय करता है।
* टमाटर शरीर में रक्त की मात्रा बढ़ाता है और त्वचा निखारता है।
* नींबू शरीर के पाचक रसों को बढ़ाता है।
* पालक हड्डियों को कैल्शियम से सुदृढ़ करता है।
* भिंडी वीर्य में गाढ़ापन लाती है और शुक्राणु बढ़ाती है।
* लौकी शीघ्र पाचक, रक्तवर्द्धक है। यह शीतलता प्रदान करती है।
* खीरा रक्त कणों का शोधन कर शरीर में रक्त का प्रवाह बढ़ाती है।
* परवल शरीर को ऊर्जा देता है।

ND
सब्जियाँ पकाने के कुछ नियमः-

* पत्तेदार सब्जी लौह तत्व से भरपूर होती है अतः इन सबका उचित रूप से सलाद में प्रयोग करें या हल्की भाप पर थोड़ी देर पकाकार कम मसाले के साथ सेवन करें।

* सब्जी को काटने से पूर्व अच्छी तरह धो लें। काटने के बाद धोने से सब्जी के तत्व नष्ट होते हैं।

* सब्जी पकाते समय ज्यादा तेल का उपयोग न करें।

* स्वाद के लालच में सब्जियों को ज्यादा देर तक आग पर न रखें। इससे उनकी पौष्टिकता नष्ट हो जाती है।

* खाने में अधिक मिर्च-मसाले का प्रयोग सब्जी के प्राकृतिक स्वाद व ऊर्जा को कम करते हैं।

* बासी, फ्रिज में रखी सब्जियों को बार-बार गरम न करें।

* हमेशा ताजी सब्जियाँ ही प्रयोग में लाएँ।

अगर आप दैनिक जीवन से फास्ट फूड को हटाकर हरी सब्जियों का नियमित प्रयोग करें तो, आपके शरीर के अंग हष्ट-पुष्ट होकर आपका शरीर सुचारु रूप से कार्य करने लगता है। जिसका असर आपके चेहरे और व्यक्तित्व में आए निखार से स्पष्ट झलकता है। आपके शरीर के भीतर की उष्मा बाहर झलकती है यही सही मायने में आपका स्वास्थ्य है जो आपके सौंदर्य को चार चाँद लगाकर दमकाता है।