हिन्दी के बारे में महापुरुषों के कथन

WD| Last Updated: शुक्रवार, 12 सितम्बर 2014 (17:03 IST)

- हिन्दी भारतवर्ष के हृदय-देश स्थित करोड़ों नर-नारियों के हृदय और मस्तिष्क को खुराक देने वाली भाषा है -

हजारीप्रसाद द्विवेदी




और भी पढ़ें :