UP में गौशाला की आड़ में चलाई जा रही शराब की अवैध फैक्टरी का भंडाफोड़, करोड़ों की शराब जब्त

Last Updated: सोमवार, 5 अप्रैल 2021 (09:20 IST)
प्रतापगढ़ (यूपी)। उत्तरप्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में और आबकारी विभाग की संयुक्त टीम ने हथिगंवा क्षेत्र में शराब बनाने की कथित अवैध फैक्टरी का भंडाफोड़ किया है, जो गौशाला की आड़ में चलाई जा रही थी। वहां से करोड़ों रुपए की शराब और इसे बनाने में इस्तेमाल किए जाने वाले उपकरण बरामद करने के साथ ही 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी।
ALSO READ:
भोपाल में रविवार को था Lockdown, शराब नहीं मिली तो सैनिटाइजर पी गए, 3 भाइयों की मौत

प्रयागराज क्षेत्र के अपर पुलिस महानिदेशक (एडीजी) प्रेम प्रकाश ने बताया कि शुक्रवार शाम पुलिस और आबकारी विभाग द्वारा पर्सीपुर झाझामऊ में की गई संयुक्त कार्रवाई में गौशाला की आड़ में चलाई जा रही शराब बनाने की अवैध फैक्टरी पर छापा मारा गया।

उन्होंने बताया कि इस दौरान गौशाला में भूसे और पुआल में छुपाकर रखी गई सैकड़ों पेटी शराब बरामद की गई। यह शराब अवैध रूप से बनाई गई थी। प्रकाश ने बताया कि गौशाला में खुदाई के दौरान भी भारी मात्रा में शराब तथा इसे बनाने में इस्तेमाल किए जाने वाले उपकरण बरामद किए गए। बरामद शराब की कीमत कई करोड़ रुपए बताई जा रही है।

प्रकाश ने बताया कि गौशाला तथा अन्य संभावित ठिकानों पर व्यापक पुलिस बल की मौजूदगी में जेसीबी से खुदाई का काम जारी है। उन्होंने बताया कि गौशाला की आड़ में संचालित की जा रही यह फैक्टरी शराब माफिया गुड्डू सिंह की है जिसकी तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि इस मामले में कई लोगों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर ने बताया कि 7 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और 20 लोगों की पहचान कर ली गई है।
तोमर ने बताया कि अवैध शराब के कारोबार में लिप्त 45 लोगों को चिन्हित किया जा चुका है और उनकी तलाश जारी है। उन्होंने कहा कि सभी आरोपियों की संपत्ति कुर्क की जाएगी। तोमर ने बताया कि जिले में अवैध रूप से बनाई गई शराब की बरामदगी के अभियान के तहत शनिवार-रविवार की दरमियानी रात कुंडा कोतवाली क्षेत्र में पुलिस ने शराब बनाने की अवैध फैक्टरी और एक दुकान पर छापा मारकर लगभग 50 लाख रुपए की शराब बरामद की है। (भाषा)



और भी पढ़ें :