जीवन से जुड़े वेदों के 15 श्लोक....

* अति सर्वत्र वर्जयेत्। अर्थात : अधिकता सभी जगह बुरी होती है।
* कालाय तस्मै नमः।। *कालेन समौषधम्।। समय सबसे बेहतर मरहम लगाने वाला है।
*जननी जन्मभूमिश्च स्वर्गादपि गरीयसी।। अर्थात: जहां आपने जन्म लिया है वह स्वर्ग से भी बड़ी भूमि है। उसके प्रति वफादारी जरूरी है।
*दुर्लभं भारते जन्म मानुष्यं तत्र दुर्लभम्।। अर्थात मनुष्यों के लिए भारत में जन्म लेना सबसे दुर्लभ है। भाग्यशाली है जिन्होंने भारत में जन्म लिया।
*नास्ति सत्यसमो धर्मः।।
अर्थात: सत्य के बराबर कोई दूसरा धर्म नहीं।
*बुद्धिः कर्मानुसारिणी।। अर्थात बुद्धि कर्म का अनुसरण करती है।
*बुद्धिर्यस्य बलं तस्य।।
बुद्धि तलवार से अधिक शक्तिशाली है।
* पितृदेवो भव।।
*आचार्यदेवो भव।।
*अतिथिदेवो भव।।
*मूढः परप्रत्यनेयबुद्धिः।।
*विनाशकाले विपरीतबुद्धि।।



और भी पढ़ें :