पंजाब विधानसभा में हंगामा, नवजोत सिद्धू और अकाली विधायक आमने-सामने

ख्‍यमंत्री चन्नी भड़क गए और कहा कि वह हमारे प्रधान के खिलाफ कैसे टिप्पणी कर सकते हैं, जबकि उनका रोम-रोम गंदगी से भरा हुआ है। बताया जा रहा है कि मुख्‍यमंत्री की टिप्पणी पर अकाली विधायक बाहें चढ़ाकर मुख्‍यमंत्री कुर्सी के पास तक आ गए।

पुनः संशोधित गुरुवार, 11 नवंबर 2021 (16:42 IST)
चंडीगढ़। पंजाब विधानसभा में गुरुवार को उस समय जमकर हंगामा हो गया, जब पंजाब के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू कृषि कानूनों पर बोल रहे थे। एक बार तो नौबत हाथापाई तक पहुंच गई थी, लेकिन वरिष्ठ विधायकों के बीचबचाव के चलते मामला संभल गया।


दरअसल, सिद्धू केन्द्र सरकार के 3 कृषि कानूनों पर बोल रहे थे, तभी के
तो बिक्रम मजीठिया ने उन्हें टोका। इस पर मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने मजीठिया को रोकने की कोशिश की थी, लेकिन मजीठिया और अन्य अकाली विधायक सिद्धू के खिलाफ नारेबाजी करते रहे।

इस पर मुख्‍यमंत्री चन्नी
भड़क गए और कहा कि वह हमारे प्रधान के खिलाफ कैसे टिप्पणी कर सकते हैं, जबकि उनका रोम-रोम गंदगी से भरा हुआ है। बताया जा रहा है कि मुख्‍यमंत्री की टिप्पणी पर अकाली विधायक बाहें चढ़ाकर मुख्‍यमंत्री कुर्सी के पास तक आ गए।

हालांकि वरिष्ठ विधायकों ने आगे आकर मामले को शांत ‍कर दिया। विधानसभा अध्यक्ष ने भी माहौल में गरमी देखते हुए सदन को 15 मिनट के लिए स्थगित कर दिया, लेकिन दोनों ओर से एक-दूसरे के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग जारी रहा।



और भी पढ़ें :