31 वर्ष बाद मसूरी से एक बार फिर हिमालयन कार रैली को हरी झंडी, 92 से अधिक विंटेज कारें शामिल हुईं

एन. पांडेय| Last Updated: गुरुवार, 11 नवंबर 2021 (12:54 IST)
देहरादून। 31 वर्ष बाद उत्तराखंड के हिल स्टेशन मसूरी में एक बार फिर हिमालयन कार रैली को आज गुरुवार को प्रदेश के संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने हरी झंडी दिखाई। इस बार मसूरी में हिमालयन कार रैली में 92 से अधिक विंटेज कारें शामिल हुईं। इस कार रैली ने कई पुराने दोस्तों को आपस में भी मिलाया। कार रैली में 4 क्लासिक कारों और मॉडर्न कंटेम्पररी कारों को शामिल किया गया। विंटेज कारों में फॉक्सवैगन की बीटल और इटैलियन फिएट भी शामिल की गई थीं।

इस रैली में शिरकत कर रही टीम के हर दल में 2 सदस्य शामिल हैं। साल 1981 में हिमालय रैली रूट की शुरुआत करने वाले नजीर हुसैन ने 1990 तक लगातार संचालन किया था। नजीर हुसैन भारतीय रेसिंग ड्राइवर के साथ ही मोटर स्पोर्ट्स के प्रशासक थे। वो मोटर स्पोर्ट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष भी रहे थे।
नजीर वर्ल्ड रैली चैंपियनशिप के मुख्य प्रबंधक एवं वर्ल्ड मोटर स्पो‌र्ट्स काउंसिल के सदस्य भी रहे थे। साल 2019 में उनका देहांत हो गया था। नजीर हुसैन ने भारत को अंतरराष्ट्रीय मोटर स्पोर्ट्स के नक्शे पर मजबूती से खड़ा किया। उन्होंने 1971 में इंडियन ऑटोमोटिव रेसिंग क्लब की स्थापना कर 1980 से लेकर 1999 के दशक में हिमालयन कार रैली का आयोजन किया।
हिमालयन कार रैली का आयोजन सन् 1980 से लेकर 1919 के दशक में 'द सेवॉय होटल' के सहयोग से किया जाता रहा है। इस रैली की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसमें लोग अपने परिवार के साथ शामिल हो रहे हैं। शीतकाल में जब प्रदेश में पर्यटन की रफ्तार धीमी हो जाती है तो इस प्रकार के आयोजन प्राण फूंकने का काम करते हैं। लैंसडौन, मसूरी, कुफरी और मनाली आदि मार्गों से होकर जाने वाली हिमालयन कार रैली में इस बार 92 से अधिक विंटेज कारें प्रतिभागी कर रही हैं। कार रैली उसी मार्ग पर चलाई जा रही है जिस मार्ग को 1981 में रैली के लिए तय किया गया था।



और भी पढ़ें :