Weather Alert: कैसा है मौसम का मिजाज, शाहीन चक्रवात से भारी बारिश की चेतावनी

Last Updated: गुरुवार, 30 सितम्बर 2021 (08:22 IST)
नई दिल्ली। उत्तरी मध्य महाराष्ट्र और इससे सटे गुजरात क्षेत्र पर एक गहरा निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। संबद्ध चक्रवाती परिसंचरण मध्य क्षोभमंडल स्तर तक फैल रहा है। यह पश्चिम उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ना जारी रखेगा और 30 सितंबर को पूर्वोत्तर अरब सागर में निकल सकता है। उसके उपरांत अगले 24 घंटों में तीव्र होकर डिप्रेशन में सशक्त हो सकता है।
ALSO READ:

भबानीपुर उपचुनाव में मतदान, सीएम ममता बनर्जी के भाग्य का फैसला आज

एक गहरा निम्न दबाव का क्षेत्र गंगीय पश्चिम बंगाल पर स्थित है और संबंधित चक्रवाती परिसंचरण मध्य क्षोभमंडल स्तर तक फैल रहा है। पूर्वी पश्चिम ट्रफ रेखा उत्तरी कोंकण और गोवा से मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और दक्षिण झारखंड होते हुए गंगीय पश्चिम बंगाल तक फैली हुई है।
स्काईमेट के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान, गंगीय पश्चिम बंगाल, उत्तर कोंकण और गोवा और दक्षिण गुजरात में मध्यम से के साथ देख दो स्थानों पर बहुत भारी बारिश हुई। विदर्भ, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा के बाकी हिस्सों कोंकण और गोवा, सौराष्ट्र और कच्छ और तटीय कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई।


दक्षिण-पश्चिम और दक्षिण मध्यप्रदेश, केरल, लक्षद्वीप, तटीय आंध्रप्रदेश, ओडिशा, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, उत्तर पूर्व भारत, झारखंड के कुछ हिस्सों, उत्तर-पश्चिम उत्तरप्रदेश के कुछ हिस्सों, राजस्थान और हिमाचलप्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। उत्तराखंड, जम्मू कश्मीर, बिहार, तेलंगाना के कुछ हिस्सों, आंतरिक कर्नाटक और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की बारिश हुई।

अगले 24 घंटों के दौरान, कोंकण और गोवा, गुजरात, गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड, ओडिशा के कुछ हिस्सों, तटीय कर्नाटक और छत्तीसगढ़ के अलग-अलग हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। मध्यप्रदेश, बिहार के कुछ हिस्सों, आंतरिक ओडिशा, विदर्भ के कुछ हिस्सों, तेलंगाना, केरल, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, लक्षद्वीप, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम के कुछ हिस्सों, मेघालय, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। शेष पूर्वोत्तर भारत, उत्तरप्रदेश के कुछ हिस्सों, पूर्वी राजस्थान, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और जम्मू कश्मीर के अलग-अलग हिस्सों में हल्की बारिश संभव है।


से भारी बारिश की चेतावनी: मौसम अधिकारियों के अनुसार बंगाल की खाड़ी में पैदा हुआ चक्रवात गुलाब अब शाहीन के रूप में फिर से आ रहा है। तूफान का शाहीन नाम कतर ने दिया है जो हिन्द महासागर में एक ट्रॉपिकल चक्रवात के नामकरण के लिए सदस्य देशों का एक हिस्सा है।
कोरोना महामारी के बीच इस वक्त देश के कई राज्यों पर एक के बाद एक चक्रवाती तूफान का प्रकोप आ रहा है। गुलाब का कहर अभी थमा नहीं है कि एक नए चक्रवाती तूफान शाहीन की आशंका प्रबल हो गई है। इसका खास तौर से महाराष्ट्र और गुजरात के समुद्र तटीय इलाकों में रहने वाले लोगों पर असर हो सकता है। अरब सागर में तैयार होने वाला शाहीन तूफान महाराष्ट्र और गुजरात के समुद्री किनारे वाले इलाकों को प्रभावित करेगा।


तेलंगाना के कई हिस्सों में बारिश हुई : मौसम विज्ञान विभाग ने चेतावनी दी कि अगले 48 घंटों में राज्य के विभिन्न जिलों में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने स्थिति का जायजा लिया। राज्य भर में अगले दो दिनों तक भारी बारिश के पूर्वानुमान के कारण किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान के खिलाफ जरूरी सावधानी बरतने का निर्देश दिया।



और भी पढ़ें :