सिद्धू मूसेवाला मर्डर मामले में पहली गिरफ्तारी आरोपी 5 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा गया

पुनः संशोधित मंगलवार, 31 मई 2022 (21:24 IST)
हमें फॉलो करें
सिद्धू मूसेवाला में बड़ी खबर सामने आई है। खबरों के मुताबिक इस मर्डर केस में पहली गिरफ्तारी हो गई है। आरोपी को पुलिस हिरासत में भेजा गया है। आरोपी मनप्रीत को उत्तराखंड से गिरफ्तार किया गया है। वह सोमवार पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए 6

लोगों में शामिल था। उसे पांच दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया है।

शुभदीप सिंह सिद्धू उर्फ सिद्धू मूसेवाला की रविवार को पंजाब के मानसा जिले में अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। हमले के समय वह महिंद्रा थार जीप से यात्रा कर रहे थे। गाड़ी में उनके साथ सवार उनका एक रिश्तेदार और एक दोस्त इस हमले में घायल हो गये।इस वारदात के बाद से पूरा पंजाब हाईअलर्ट पर है।
सिद्धू मूसेवाला का अंतिम संस्कार मंगलवार को मानसा जिले में उनके पैतृक गांव में किया गया, जहां उन्हें अंतिम विदाई देने के लिए बड़ी संख्या में लोग जमा हुए। गायक की पार्थिव देह को मंगलवार सुबह मानसा सरकारी अस्पताल से कड़ी सुरक्षा के बीच मूसा गांव में स्थित उनके घर लाया गया। मानसा अस्पताल में उनका पोस्टमॉर्टम किया गया था।

अंतिम संस्कार में उमड़ा जनसैलाब : मूसेवाला के घर में उनकी पार्थिव देह के पास बैठे उनके माता-पिता और अन्य परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। मूसेवाला की मां को उनके पिता को ढाढस बंधाते हुए देखा गया। अपने पसंदीदा गायक की अंतिम झलक पाने के लिए पंजाब, राजस्थान और चंडीगढ़ समेत अनेक जगहों से बड़ी संख्या में लोग आये थे।
ट्रैक्टर पर निकली अंतिम यात्रा : मूसेवाला की अंतिम यात्रा के लिए उनके पसंदीदा ट्रैक्टर को फूलों से सजाया गया और इस पर मूसेवाला को उनके परिवार के एक खेत तक अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया। इसी ट्रैक्टर पर मूसेवाला ने अपने अनेक गानों की शूटिंग की थी। चिलचिलाती धूप और गर्मी के बीच भी लोग मूसेवाला की अंतिम यात्रा में शामिल हुए और इस दौरान उनके माता-पिता हाथ जोड़कर ट्रैक्टर पर खड़े थे।
अंतिम यात्रा में शामिल हुए मूसेवाला के कुछ प्रशंसकों ने उनकी तस्वीर वाली टीशर्ट पहन रखी थीं। मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह ने बड़ी संख्या में गमगीन लोगों को देखकर अपनी पगड़ी तक उतार दी। अंतिम यात्रा में कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वडिंग भी उपस्थित थे। गायक के आवास पर और अंत्येष्टि स्थल पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया था। इस दौरान कुछ लोग मूसेवाला की तारीफ करते और नारे लगाते दिखे तो कुछ लोगों ने उनकी सुरक्षा वापस लिये जाने पर पंजाब पुलिस के प्रति नाराजगी जताई।



और भी पढ़ें :