अमेरिका में बड़े ड्रग रैकेट का खुलासा, भारत से जुड़े हैं इसके तार

पुनः संशोधित गुरुवार, 12 सितम्बर 2019 (11:01 IST)
नई दिल्ली। अमेरिका की एनफोर्समेंट एजेंसी (DEA) ने एक सबसे बड़े ड्रग रैकेट का भंडाफोड़ किया है। खबरों के अनुसार इस रैकेट के तार भारत से भी जुड़े बताए जा रहे हैं। अंडरवर्ल्‍ड डॉन के एक पूर्व सहयोगी और भारत से संचालित होने वाली एक दवा कंपनी के तार इस रैकेट से जुड़े हैं। जांच में 2 पूर्व बॉलीवुड अभिनेत्रियों के पतियों की संलिप्तता भी सामने आई है, जिन पर केन्या से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मादक पदार्थों की तस्करी करने के आरोप हैं।
इस ड्रग रैकेट के तार अंडरवर्ल्ड के सरगना दाऊद इब्राहिम के एक पूर्व सहयोगी और कथित तौर पर भारत से संचालित एक दवा कंपनी से जुड़े बताए जा रहे हैं। इस कंपनी में मैंड्रेक्स और एफेड्रिन जैसे ड्रग का उत्पादन किया जाता था।

वहीं दूसरी ओर बॉलीवुड की 2 पूर्व अभिनेत्रियों के पतियों की संलिप्तता भी सामने आई है। 25 जुलाई, 2019 को डीईए द्वारा दायर जांच रिपोर्ट में डी-कंपनी के सहयोगी व बॉलीवुड अभिनेत्री ममता कुलकर्णी के पति विक्की गोस्वामी और अभिनेत्री किम शर्मा के पूर्व पति अली पंजानी के नाम का उल्लेख है।
ALSO READ:
दिल्ली हवाई अड्डे पर सोने और विदेशी मुद्रा की तस्करी के लिए 2 यात्री गिरफ्तार
अली पंजानी केन्या से भागकर मुंबई पहुंच गया, जहां उसे आखिरी बार अगस्त के अंतिम सप्ताह में बांद्रा के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट में देखा गया था। दक्षिण अफ्रीका में डी-कंपनी के लिए मादक पदार्थ की तस्करी का काम करने वाले विक्की गोस्वामी ने बाद में धंधा करने के लिए केन्या को अपना ठिकाना बना लिया। वहां से उसने मैंड्रैक्स, कोकीन, हशीश, हेरोइन और एफेड्रिन की तस्करी की।

ममता कुलकर्णी के पति व दाऊद के सहयोगी गोस्वामी को दुबई की अदालत ने ड्रग तस्करी के आरोप में सजा सुनाई थी। 2013 में जेल से रिहा होने के बाद गोस्वामी ने केन्या से यह काम करना शुरू कर दिया, जहां वह पंजानी के संपर्क में आया।

गोस्वामी ने दक्षिण अफ्रीकी तस्करों के नामों का भी खुलासा किया, जिनमें से कई के दाऊद इब्राहिम गिरोह के साथ करीबी संबंध हैं। अली पंजानी को गिरफ्तार करने के लिए केन्याई पुलिस, इंटरपोल के जरिए मुंबई पुलिस से संपर्क करने का प्रयास कर रही है।

 

और भी पढ़ें :