लिव-इन में जाने से पहले जानिए इसके नुकसान, वरना पड़ेगा पछताना

disadvantages of live-in relationship
कई युवा को अपना चुके हैं। इसमें रहने से साथी का साथ हर प्रकार से मिल जाता है, वो भी बिना कोई लॉन्ग टर्म कमिट्मेंट के। ये बात कई लोगों को रास आ रही है। शादी से पहले लिव-इन में रहकर देखने पर दोनों एक-दूसरे के स्वभाव को गहराई से जानने-समझने लगते हैं और इसके बाद कई लोग शादी करने का निर्णय लेते हैं, तो कई लोग अपने रास्ते अलग कर लेते हैं। लेकिन क्या आपने लिव-इन रिलेशनशिप में रहने के नुकसान के बारे में कभी सोचा है? अगर नहीं तो इस तरह के रिश्ते में आगे बढ़ने से पहले ये जरूर जान लीजिए-
1 जब कोई लिव इन में रहता है तो उनपर रिश्ते को निभाने को लेकर किसी तरह का बंधन तो नहीं होता, लेकिन इस
रिश्ते को खुलकर सभी को बताया भी नहीं जा सकता।

2 जब आप अपने रिशतों के बारे में सभी को बता नहीं पाते तब सामाजिक तौर पर आप खुलकर अपनी जिंदगी नहीं जी पाते हैं।

3 दोनों ही पार्टनर को इस रिश्ते में इंसिक्योरिटी व असुरक्षा की भावना महसूस हो सकती है, साथ ही इस बात की भी गारंटी नहीं होती कि आगे चलकर आपका पार्टनर आपसे ही शादी करेगा या नहीं।
4 किसी भी रिश्ते में थोड़ी बहुत लड़ाई-झगड़े तो होते ही है, ऐसे में स्वभाविक है कि लिव इन रिलेशन में भी पार्टनर में आपस में मन मुटाव तो होते ही होंगे। लेकिन इस रिश्ते में नहीं होता जिसकी वजह से ऐसी स्थिति उतपन्न होने पर दोनों में से कोई एक पार्टनर रिश्ते को खत्म करने की इच्छा बहुत जल्द जाहिर कर सकता है।
5 लिव इन में किसी के साथ रह लेने के बाद अगर किसी अन्य व्यक्ति से शादी हो जाए तो मुश्किल स्थितियां पैदा हो हो सकती है।

6. अगर लिव इन में रहने के दौरान ही आप मां बन गई और यदि आपका साथी बच्चे की जिम्मेदारी नहीं लेना चाहता, तो ऐसी स्थिति में आपको अकेले ही अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए मानसिक रूप से तैयार रहना होगा।

 

और भी पढ़ें :