बच्चों को कोरोना से कैसे बचाएं, जरूर बरतें ये 10 सावधानियां

kids n corona time
की दूसरी लहर पूरी देश में तेजी से फैल रही है। इसकी चपेट में हर आयु वर्ग के लोग आ रहे हैं। कोरोना की दूसरी लहर अब और कितना विकराल रूप धारण करेगी इसके बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता है लेकिन बच्चों को इससे सुरक्षित करना अभी भी जरूरी है।
तो जानते हैं क्या सावधानियां बरती जा सकती है जिससे बच्चों को संक्रमण से बचाया जा सकें-

- बच्चों को साफ-सफाई के बारे में बताएं। उन्हें इस बीमारी से अवगत कराकर सैफ्टी टिप्स दें। अपना रूम साफ करने के लिए कहें। हाइजिन के बारे में बताएं।

- बच्चों पर लगातार नजर बनाएं रखें। उन्हें थोड़ा सा भी कफ, खांसी, जुकाम होने पर बेसिक इलाज शुरू कर दें। बच्चों को ठंडी चीजें नहीं खिलाएं। जैसे आइस्क्रीम, कोल्ड्रिंक्स, चॉकलेट भी नहीं खिलाएं।

- कोविड के नए लक्षणों में पेट दर्द, उल्टी, दस्त जैसी समस्या भी सामने आ रही है। ध्यान रहे बच्चों में इस तरह के लक्षण पाएं जाने पर डॉ. से जरूर चर्चा करें। अगर बच्चे सुस्त भी नजर आते हैं तो उनसे उनका हाल जरूर पूछें।

- अपने साथ बच्चों को भी सूर्य नमस्कार जरूर कराएं। इससे उनका इम्यूनिटी लेवल भी बढ़ेगा, ताकत भी रहेगी और वह तंदुरूस्त बनें रहेंगे।

- बच्चों के फूड डाइट में जरूर बदलाव करें उन्हें हेल्दी सब्जी खिलाएं। फ्रूट्स खिलाते रहें।
- सैनिटाइजर की जगह बच्चों को साबुन से हाथ धोने के लिए कहें। बार-बार मुंह पर हाथ फेरने से रोकें। मास्क कैसे पहनना है और कैसे निकालकर रखना है। यह जरूर बताएं।

- बच्चों को माइंड गेम, ऑनलाइन डांस क्लास, पजल, स्टोरी रीडिंग जैसी चीजों में व्यस्त रखें।

- कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। लेकिन बच्चों को खुली हवा में भी जरूर ले जाएं। इसके लिए आप छत पर थोड़ी देर टहल सकते है। सुबह का वक्त ज्यादा बेहतर होता है।

- परिवार बड़ा है तो कोशिश करें कि वेंटिलेशन, खिड़कियां खुली रखें। ताकि हवा अंदर की बाहर और बाहर की अंदर आ-जा सकें। बंद कमरे में वायरस का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है।

- परिवार के सदस्य बाहर से कोई भी वस्तु ला रहे हैं तो उन्हें छूने न दें। जब तक आप सैनिटाइज नहीं कर देते।





और भी पढ़ें :