मंगलवार, 9 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. मध्यप्रदेश
  4. Voting in Amarwada Assembly by-election tomorrow
Last Updated : मंगलवार, 9 जुलाई 2024 (11:50 IST)

अमरवाड़ा उपचुनाव क्या टूटेगा लोकसभा की वोटिंग का रिकॉर्ड, दांव पर राजा और दरबार की प्रतिष्ठा

अमरवाड़ा उपचुनाव क्या टूटेगा लोकसभा की वोटिंग का रिकॉर्ड, दांव पर राजा और दरबार की प्रतिष्ठा - Voting in Amarwada Assembly by-election tomorrow
भोपाल। छिंदवाड़ा जिले की अमरवाड़ा विधानसभा सीट पर बुधवार को मतदान होने जा रहा  है। मतदान को लेकर जहां प्रशासन ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली है वहीं भाजपा और कांग्रेस अब अंतिम दौर में अपना पूरा फोकस पोलिंग मैनेजमेंट पर लगा दिया है। लोकसभा चुनाव में अमरवाड़ा विधानसभा सीट पर रिकॉर्ड 82.70% फीसदी मतदान हुआ था जो प्रदेश में दूसरा सबसे ज्यादा था। ऐसे में अब उपचुनाव में वोटिंग पर सबकी निगाहें टिकी है।

अमरवाड़ा में प्रतिष्ठा की लड़ाई- अमरवाड़ा उपचुनाव में भाजपा के कमलेश शाह और कांग्रेस प्रत्याशी धीरेन शाह के बीच सीधा मुकाबला है। वहीं गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के देव रावेन भलावी चुनावी मुकाबले को त्रिकोणीय बना रहे है। आदिवासी वोटर्स के बाहुल्य वाली इस सीट पर गोंडवाना गणतंत्र पार्टी भाजपा और कांग्रेस का खेल बिगाड़ सकती है।

2023 में अमरवाड़ा से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीते राजा कमलेश शाह के लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा में शामिल होने और विधायकी पद से इस्तीफा देने के बाद अमरवाड़ा में उपचुनाव हो रहे है। भाजपा ने कमलेश शाह को अपना प्रत्याशी बनाया है, वहीं कांग्रेस ने आदिवासियों के बीच गहरी पैठ रखने वाले धीरेन शाह को प्रत्याशी बनाया है।

गौड़वाना समाज से आने वाले कमलेश शाह अमरवाड़ा विधानसभा सीट से 2013 में पहली बार विधायक चुने गए थे। इसके बाद 2018 और 2023 में भी वह कांग्रेस के टिकट पर विधायक चुने गए थे, वहीं अब वह दलबदल के बाद भाजपा के टिकट पर चुनावी मैदान में है। वहीं कांग्रेस के टिकट पर चुनावी मैदान में उतरे आंचलकुंड दरबार के सेवक सुखराम दादा के पुत्र धीरेन शाह इनावती का आदिवासी समाज पर काफी प्रभाव रहा है। कांग्रेस घीरेन शाह के सहारे अपनी इस सीट को बरकरार रखने की कोशिश में लगी हुई है।

चरम पर रहा चुनाव प्रचार-अमरवाड़ा विधानसभा सीट पर चुनाव प्रचार के आखिरी दिन मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने एक बड़ी जनसभा को संबोधित किया। मुख्यमत्री ने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में आप सभी लोगों की उपस्थिति और चेहरे की चमक बता रही है कि यहां भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में लहर चल रही है। अमरवाड़ा विधानसभा क्षेत्र की पूरी जनता भाजपा के साथ है, यहां हमारी पार्टी को कोई नहीं हरा सकता है। उन्होंने कहा कि अमरवाड़ा के हर खेत को पानी और हर हाथ को काम देने का कार्य भाजपा सरकार करेगी। कांग्रेस के नेता घूमने के लिए हेलीकॉप्टर का उपयोग करते हैं, लेकिन भाजपा सरकार गरीबों की जिंदगी बचाने के लिए पीएम श्री हेल्थ एंबुलेंस सेवा चला रही है। कांग्रेस ने आदिवासी महापुरूषों, क्रांतिवीरों को कभी सम्मान नहीं दिया, भाजपा सरकार भगवान बिरसा मुंडा की स्मृति में आदिवासी गौरव दिवस मना रही है।

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि आप सभी का एक वोट इस क्षेत्र के विकास को गति  देगा। 10 जुलाई को प्रातः 7 बजे आप सभी अपने-अपने मतदान केन्द्रों पर पहुंचकर भारतीय जनता पार्टी को अपना वोट रूपी आशीर्वाद प्रदान करें, भाजपा सरकार इस क्षेत्र में विकास में चार चांद लगाएगी। आपका एक वोट इस क्षेत्र के विकास को गति देगा। कांग्रेस नेता हमेशा झूठ फैलाते हैं, उनके झूठ के चंगुल में नहीं फंसना है। कांग्रेस के छिंदवाड़ा से कमलनाथ करीब 40 साल तक सांसद रहे, लेकिन अमरवाड़ा क्षेत्र में सिंचाई और रोजगार के लिए कोई कार्य नहीं किया है।

वहीं कांग्रेस की ओर से पूरे चुनाव प्रचार की कमान खुद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और उनके बेटे पूर्व सांसद नकुलनाथ ने अपने हाथों में संभाल रखी। वहीं चुनाव प्रचार के अंतिम दिन कांग्रेस नेताओं ने एक मंच पर आकर अपना शक्ति प्रदर्शन किया। चुनाव प्रचार के आखिरी दिन कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी जितेंद्र सिंह, पीसीसी चीफ जीतू पटवारी, नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार अमरवाड़ा पहुंचकर धीरेन के पक्ष में चुनाव सभा की।