भोपाल में मामूली विवाद में गार्ड ने ताबड़तोड़ फायर कर सुपरवाइजर को उतारा मौत के घाट

विशेष प्रतिनिधि| Last Updated: गुरुवार, 30 सितम्बर 2021 (19:33 IST)
भोपाल। राजधानी में मामूली विवाद में एक गार्ड ने अपने सुपरवाइजर को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। राजधानी के अरेरा हिल्स इलाके में निर्माण सदन में तैनात निजी सुरक्षाकर्मी ने सैलरी और ठीक से काम नहीं करने को लेकर हुए विवाद में अपने ही सुपरवाइजर को गोली मार दी। जिसमें सुपरवाइजर की मौत हो गई। पुलिस ने आरोपी गार्ड को गिरफ्तार कर लिया है।


घटना की जानकारी देते हुए एएसपी राजेश भदौरिया ने बताया कि पूरा मामला प्रेस कॉम्प्लेक्स स्थित यूनियन बैंक के पास का है। सुपरवाइजर राजकुमार ठाकुर और गार्ड महेंद्र तिवारी के बीच सैलरी कम करने को लेकर विवाद हो गया। ये विवाद इतना बढ़ गया कि गार्ड महेंद्र तिवारी ने सुपरवाइजर को अपने 12 बोर की बंदूक से गोली मार दी। एक के बाद दो फायर करने के बाद सुपरवाइजर राजकुमार ठाकुर मौके पर ही गिर गए। आनन-फानन में उनको इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

सुपरवाइजर की हत्या के बाद आरोपी गार्ड ने महेंद्र तिवारी ने भागने की भी कोशिश की। भागने के दौरान कार से टकराकर घायल हो गया। इसके बाद लोगों ने उसे पकड़कर पुलिस के हवाले किया। जानकारी के मुताबिक फिलहाल आगे की कार्रवाई की जा रही है।


मृतक राजकुमार ठाकुर सेना से रिटायर्ड थे और भोपाल में एक सिक्योरिटी एजेंसी में सुपरवाइजर के पद पर तैनात थे। वहीं हत्या का आरोपी आरोपी महेंद्र तिवारी भी सेना से रिटायर्ड बताया जा रहा है। पिछले कुछ दिनों से मृतक सुपरवाइजर और गार्ड में सैलरी और ड्यूटी के घंटे को लेकर विवाद चल रहा था, जिसने आज खूनी संघर्ष का रूप ले लिया।





और भी पढ़ें :