भोपाल में 3 लेयर में हो रही EVM स्ट्रांग रूम की सुरक्षा, कैमरे और CRPF के जवान तैनात

पुनः संशोधित गुरुवार, 23 मई 2019 (00:58 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में लोकसभा निर्वाचन-2019 के लिए आयोग द्वारा अनुमोदित मतगणना स्‍थलों में मतगणना प्रारंभ होगी। मतगणना के लिए स्‍ट्रांग रूम की त्रि-स्‍तरीय सुरक्षा सुनिश्‍चित की गई है। EVM स्‍ट्रांग रूम की सुरक्षा केन्‍द्रीय सुरक्षा बल द्वारा की जा रही है।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार स्‍ट्रांग रूम की सुरक्षा के लिए तैनात केन्‍द्रीय सुरक्षा बल द्वारा रूम के निरीक्षण के लिए आने वाले अधिकृत व्यक्ति की भी वीडियो रिकॉर्डिंग की जा रही है। मतगणना सम्‍पन्‍न होने के बाद EVM स्‍ट्रांग रूम में वापस रखी जाकर सील किए जाने तक केन्‍द्रीय सुरक्षा बल द्वारा सुरक्षा की जाएगी। इसके पश्‍चात सुरक्षा की जिम्‍मेदारी राज्‍य सुरक्षा बल को सौंपी जाएगी।
स्‍ट्रांग रूम से मतगणना हॉल तथा हॉल से स्‍ट्रांग रूम में EVM लाने-ले जाने के लिए अपेक्षित सुरक्षा सुनिश्चित की गई है। मतगणना स्‍थल से 100 मीटर का क्षेत्र प्रति‍बन्धित क्षेत्र बनाकर बेरीकेड्स लगाए गए हैं। इस क्षेत्र में कोई वाहन नहीं आ सकेगा।

मतगणना हॉल में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे एवं समय-समय पर आवश्‍यकतानुसार वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी। मतगणना स्‍थल पर इंटरनेट की सुविधा, ब्रॉड बैण्‍ड (तार द्वारा) उपलब्‍ध कराई जाएगी। किसी भी स्थिति में वाई-फाई का प्रयोग नहीं किया जा सकेगा।
भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी EVM-VVPAD के मैन्‍युअल फरवरी 2019 अनुसार सभी जिला मुख्‍यालयों पर EVM के स्‍ट्रांग रूम तैयार कर निर्वाचन में उपयोग की गई EVM एवं VVPAD सुरक्षित रखी गई है। स्‍ट्रांग रूम डबल लॉक में है, जिसकी एक चाबी जिला निर्वाचन अधिकारी तथा दूसरी चाबी संबंधित क्षेत्र के रिटर्निंग अधिकारी, सहायक रिटर्निंग अधिकारी के पास है।

स्‍ट्रांग रूम की त्रि-स्‍तरीय घेराबंदी की गई है तथा 24 घंटे सुरक्षा की जा रही है। केन्‍द्रीय पुलिस बल स्‍ट्रांग रूम के बाहर अंदरूनी परिधि में एवं राज्‍य के सशस्‍त्र पुलिस बल बाहरी परिधि में सुरक्षा के लिए तैनात हैं। (Photo courtesy: ANI)

 

और भी पढ़ें :