इस बार विकास क्यों नहीं है चुनावी मुद्दा, अमित शाह ने बताई असली वजह

पुनः संशोधित शुक्रवार, 19 अप्रैल 2019 (17:43 IST)
छोटा उदेपुर/वलसाड़। भाजपा अध्यक्ष ने शुक्रवार को कहा कि मौजूदा चुनाव में विकास से भी बढ़कर राष्ट्रीय सुरक्षा ही मुख्य चुनावी मुद्दा है।

शाह ने शुक्रवार को अपने गृहराज्य गुजरात के वलसाड़ के मालनपाड़ और छोटा उदेपुर के बोडेली में दो चुनावी सभाएं संबोधित की। उन्होंने कहा कि यह चुनाव केवल विकास की लड़ाई नहीं है। नरेन्द्रभाई (मोदी) ने पहले ही काफी विकास किया हुआ है पर असली मुद्दा यह नहीं है।

उन्होंने कहा कि असली मुद्दा तो राष्ट्रीय सुरक्षा का है। और देश की सुरक्षा मोदी और भाजपा की सरकार के अलावा कोई भी सुनिश्चित नहीं कर सकता। केवल मोदी ही देश का गौरव बढ़ा सकते हैं, अर्थतंत्र को गति दे सकते हैं, गरीबों का कल्याण कर सकते हैं और भारत को विश्व की महाशक्ति बना सकते हैं।

शाह ने कांग्रेस पर गुजरात विरोधी होने का आरोप दोहराते हुए कहा कि पंडित नेहरू के समय में सरदार पटेल के साथ इंदिरा गांधी के समय में मोरारजी देसाई के साथ अन्याय हुआ और सोनिया गांधी ने तो मोदी को मौत का सौदागर तक कह दिया था।

भाजपा अध्यक्ष ने मोदी सरकार की विभिन्न योजनाओं और गुजरात की नर्मदा परियोजना को पूरा करने जैसी उपलब्धियों की चर्चा की पर कहा कि सबसे बड़ी बात तो यह है कि देश की सुरक्षा सुनिश्चित हुई है। उन्होंने कहा कि केंद्र में 10 साल के यूपीए के शासन और सोनिया-मनमोहन सरकार के दौरान पाकिस्तान से कोई भी आकर भारत में आतंकी हमले कर देता था। जबकि, पुलवामा की घटना के बाद मोदी सरकार की कार्रवाई से आतंकियों के ठिकाने के परखच्चे उड़ गए और पाकिस्तान में मातम छा गया। हालांकि उन्होंने व्यंग्य किया कि जब पूरा देश खुश था तब पाकिस्तान जैसा मातम राहुल गांधी की कांग्रेस के कार्यालय में भी छाया हुआ था।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष भले ही आतंकियों के साथ इलू-इलू करें पर भाजपा ईंट का जवाब पत्थर से देगी। राहुल गांधी, उमर अब्दुल्ला के कश्मीर में दो प्रधानमंत्री के बयान पर भी कुछ नहीं कहते हैं पर भाजपा किसी कीमत पर कश्मीर को भारत से अलग नहीं होने देगी। लोकसभा और राज्यसभा में बहुमत मिलने पर धारा 370 को हटा दिया जाएगा।

उन्होंने राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर की चर्चा करते हुए कहा कि आतंकी बनकर बम धमाके करने वाले घुसपैठियों को भाजपा देश से निकालकर रहेगी। कांग्रेस और अन्य विरोधी दल किसलिए उनका पक्ष ले रहे हैं। तुष्टिकरण की राजनीति के तहत उनके मानवाधिकार की बात की जा रही है।



शाह ने कहा कि वलसाड़ 246 वां लोकसभा क्षेत्र है, जहां वह चुनावी दौरा कर रहे हैं और उन्हें साफ लगता है कि देश के लोगों ने तय कर लिया है दोबारा मोदी को प्रधानमंत्री बनाएंगे। उन्होंने कहा कि ऐसा देखा जाता है कि आम तौर पर जो भी वलसाड़
लोकसभा सीट पर जीतता है, उसकी ही केंद्र में सरकार बनती है और इस बार भी यहां भाजपा की जीत पक्की है। उन्होंने लोगों से गुजरात की सभी 26 सीटों पर एक बार फिर भाजपा को जिताने की अपील भी की।



 

और भी पढ़ें :