भारत के विश्व कप प्रदर्शन की नहीं होगी समीक्षा : सीओए प्रमुख

Last Updated: शुक्रवार, 26 जुलाई 2019 (20:23 IST)
नई दिल्ली। प्रशासकों की समिति (सीओए) प्रमुख ने शुक्रवार को कहा कि विश्व कप में भारत के प्रदर्शन की समीक्षा के लिए कोई बैठक नहीं होगी। विश्व कप के प्रबल दावेदार में से एक के रूप में पहुंची भारतीय टीम को सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हारकर बाहर होना पड़ा था।
भारतीय टीम के वेस्टइंडीज दौरे के लिए 29 जुलाई को रवाना होने का जिक्र करते हुए राय ने पूछा, समीक्षा बैठक करने का समय कहां है? की यहां बैठक के बाद राय ने कहा, सहयोगी स्टाफ और मैनेजर की रिपोर्ट से सामान्य फीडबैक का अब तक इंतजार है।

उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त सीओए के सदस्य राय, डायना इडुल्जी और रवि थोडगे बैठक के बाद न्यायमित्र पीएस नरसिम्हा से मिलने के लिए रवाना हो गए, जिन्हें देश में क्रिकेट प्रशासन संबंधित मामलों के निपटारे के लिए मध्यस्थ नियुक्त किया गया था।

के एक अधिकारी ने कहा, सीओए को राज्य संघ चुनावों को सही समय पर (14 सितंबर अंतिम समय सीमा) कराना सुनिश्चित करने में मदद करने के अलावा न्यायमित्र हितों के टकराव से संबंधित मुद्दे पर उच्चतम न्यायालय को सूचित करेगा।

विराट कोहली और रोहित शर्मा में मतभेद नहीं : विनोद राय ने भारतीय कप्तान विराट कोहली और उप कप्तान रोहित शर्मा के बीच मतभेद की अटकलबाजियों के बीच शुक्रवार को मीडिया में आई इस तरह की रिपोर्टों को खारिज कर दिया।

रिपोर्टों के अनुसार भारत की विश्व कप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों हार क बाद कोहली और रोहित में ठन गई थी। इसके बाद सोशल मीडिया पर अफवाहों का बाजार गर्म है कि इन दोनों के बीच मतभेद चल रहे हैं।

ऐसी भी रिपोर्ट आई थी कि बोर्ड प्रत्येक प्रारूप के लिये अलग अलग कप्तान रखकर रोहित को सीमित ओवरों ओर कोहली को टेस्ट कप्तानी सौंपने पर विचार कर रहा है।

बीसीसीआई अधिकारियों ने हालांकि इसका भी खंडन किया। राय से जब पूछा गया कि क्या भारत के दोनो चोटी के बल्लेबाजों के बीच मतभेद चल रहे हैं? उन्होंने कहा, ‘ये सारी कहानियां आप लोगों ने गढ़ी हैं।’

कोहली या रोहित ने अब तक इस पर टिप्पणी नहीं की है। विश्व कप में रोहित शानदार फार्म में थे और उन्होंने 5 शतक जमाये थे जबकि कोहली ने पांच अर्धशतक लगाए थे।

 

और भी पढ़ें :