श्रेयस अय्यर के टेस्ट करियर के लिए पिता ने 4 साल से नहीं बदली थी DP, आज डेब्यू पर जड़ा शतक

Last Updated: शुक्रवार, 26 नवंबर 2021 (14:34 IST)
कानपुर में चल रहे पहले टेस्ट के दूसरे दिन अपने पहले ही टेस्ट में शतक लगाने वाले 16वें बल्लेबाज बन गए हैं। इससे पहले यह कारनाम मोहम्मद अजरहरुद्दीन, सौरव गांगुली, वीरेंद्र सहवाग और रोहित शर्मा जैसे नाम कर चुके हैं।

वैसे तो श्रेयस अय्यर वनडे और टी-20 में टीम इंडिया की ओर से खेल चुके हैं लेकिन उनके पिताजी की चाह थी कि श्रेयस टेस्ट क्रिकेट में अपना करियर शुरु करे।

सभी क्रिकेट विशेषज्ञों के समाना श्रेयस अय्यर के पिता भी मानते हैं कि टेस्ट क्रिकेट ही असली क्रिकेट है। यही कारण रहा कि वह अपने बेटे श्रेयस अय्यर को हमेशा से ही सफेद लिबास की जर्सी पहने देखना चाहते थे। यह सपना पूरा ही नहीं हुआ बल्कि वह श्रेयस को शतक लगाते हुए भी देख पाए।

4 साल से नहीं बदली थी वाट्सअप डीपी

श्रेयस के पिता संतोष अय्यर ने 4 साल से अपनी वाट्सअप डीपी नहीं बदली थी। इसके पीछे का कारण था श्रेयस अय्यर को अपना लक्ष्य याद दिलाते रहना कि उन्हें टेस्ट क्रिकेटर बनना है। यह साल 2017 की तस्वीर है जिसमें भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2-1 से ट्रॉफी जीती थी।

पहले टेस्ट में शतक लगाने वाले बने 16वें भारतीय खिलाड़ी

श्रेयस ने 61.40 के स्ट्राइक रेट से अपनी 105 रन की शतकीय पारी में 267 मिनट क्रीज पर बिताये और इस दौरान 171 गेंदो का सामना करते हुये 13 चौके और दो शानदार छक्के जड़े। श्रेयस को चोटिल के एल राहुल के स्थान पर टीम में लिया गया था।

कोच राहुल द्रविड़ का भरोसा और महानतम बल्लेबाज से के रूप में मिले सम्मान को बरकरार रखते हुये मुबंई के युवा बल्लेबाज आज यह करिश्मा कर दिखाया।इससे पहले श्रेयस ने 22 एक दिवसीय मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया है और 42.78 के औसत से 810 रन बनाये है जिसमें उनका एक शतक भी शामिल है।
Sunil Gavaskar

गावस्कर ने थमाई थी टेस्ट कैप

कानपुर में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने टेस्ट करियर का पदार्पण मैच खेलने उतरे श्रेयस अय्यर को पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने टेस्ट कैप पहना कर उनकी हौसलाफजाई की थी।

ग्रीनपार्क मैदान पर गुरूवार को मैच शुरू होने से पहले गावस्कर ने श्रेयस को टेस्ट कैप प्रदान की जिसे कुछ देर निहारने के बाद श्रेयस ने उसे चूमा और पहन लिया था। गावस्कर ने उन्हे सफलता के लिये शुभकामनाये दी थी। बाद में टीम के सदस्यों ने श्रेयस को उनकी इस उपलब्धि के लिये बधाई दी थी।

प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अय्यर का रहा कमाल का प्रदर्शन

अय्यर ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 52.18 के औसत और 81.54 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। वह मध्य क्रम में पुजारा और रहाणे के बाद खेलते हुए दिखाई दिए। इससे पहले टीम प्रबंधन शुभमन गिल को मध्य क्रम में आज़माना चाहती थी, लेकिन राहुल की चोट के कारण सभी योजनाएं धरी रह गईं।



और भी पढ़ें :