दोस्ती पर मजेदार कविता : 'द' से दोस्त


न से नफरत
झ से झगड़ा
कभी न पढ़ना भाई।
द से दोस्त
बने रहने में
होती सदा
भलाई।


और भी पढ़ें :