गेंदे के फूल की चाय के हैं कई गजब के फायदे

Last Updated: बुधवार, 23 जून 2021 (18:35 IST)

गेंदे का फूलों का इस्तेमाल कई तरह के कार्यों में किया जाता है, पूजा-पाठ में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है, तो गार्डन में भी सजावट के लिए इसे लगाया जाता है। इतना ही नहीं इसका प्रयोग सुंदरता और बालों के लिए भी किया जाता है। लेकिन आज आपको बताने जा रहे हैं
इससे बनने वाली चाय
के बारे में। जी हां, पढ़कर थोड़ा अजीब लगा होगा लेकिन गेंदे के फूलों की चाय भी बनती है जिसके कई सारे फायदे हैं आइए जानते हैं –

1- कैंसर से बचाएं – गेंदे के फूल में मौजूद तत्वों से कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है। गेंदे के फूल में फ्लेवोनोइड्स नामक तत्व मौजूद रहता है। इस तत्व से कोलन कैंसर, ल्यूकेमिया और मेलेनोमा को रोकने का अच्छा स्रोत माना जाता है। पीने से कैंसर के खतरे को काफी हद तक कम करने में मदद मिलती है।

2 – दांत दर्द में दे आराम – गेंदे के फूलों की चाय को हल्‍का ठंडा कर लें और उससे कुल्ला करें। चाय को थोड़ी देर प्रभावित वाले दांत पर रख लें और 15 सेकंड बाद वह पानी थूक दें। ऐसा करने पर दांत दर्द में
आराम मिलेगा। साथ ही अन्य इंफेक्‍शन से भी बचा जा सकेगा।

3-पीरियड्स में दे आराम – मासिक धर्म के दौरान लड़कियों और महिलाओं को कई तरह की परेशानी होती है। ऐसे में गेंदे के फूल की चाय का सेवन करने से पीरियड्स में आराम मिलता है। गैस्ट्राइटिस, एसिड रिफ्लक्स और अल्‍सर के इलाज को कम करने में भी मददगार होता है।

4. त्वचा का रखें ख्‍याल – गेंदे के फूल में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एसपीएफ त्वचा की क्षति को कम कर सकते हैं। ऐसा करने से त्वचा
संबंधित परेशानियों से छुटकारा मिलेगा। नियमित सेवन से चेहरे का ग्लो बढ़ता है।


5. एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर – गेंदे के फूल से बनी चाय पीने से तनाव कम होता है। इसमें ट्राइटरपेंस, फ्लेवोनोइड्स, पॉलीफेनोल्स और कैरोटेनॉइड्स मुख्‍य रूप से मौजूद होते हैं।

आइए जानते हैं कैसे बनाएं गेंदे के फूल की चाय

सामग्री 4-5 गेंदे के फूल
-

2 गिलास पानी
-


शहद –(शक्कर का विकल्प)


विधि – सबसे पहले एक पैन में 2 गिलास पानी डालकर उबाल लें
-


पानी उबलने के बाद उसमें गेंदे के फूल डाल दें।




-


पानी को 5 मिनट तक धीमी आंच पर उबलने दें जब तक उसका रंग नहीं बदल जाता और पानी आधा नहीं हो जाता ।


-


पानी का रंग बदलने के बाद और पानी कम होने के बाद उसे एक कप में छान लें।


-


आपकी चाय तैयार है। हालांकि चाय का स्वाद थोड़ा सा कड़वा जरूर लगेगा ऐसे में आप थोड़ा सा शहद मिला सकते हैं।

Disclaimer: चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, आदि विषयों पर वेबदुनिया में प्रकाशित/प्रसारित वीडियो, आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं। इनसे संबंधित किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।




और भी पढ़ें :