डब्‍लूएचओ ने जारी की गाइडलाइन, क्‍या हो खाना बनाने के नियम?

WHO
अब डब्‍लूएचओ ने कोरोना संक्रमण के दौरान खाना बनाने के तरीके को लेकर गाइडलाइन जारी की है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब डब्‍लूएचओ ने खाने को लेकर नि‍यम बताए हैं।
इसमें फूड सेफ्टी के साथ ही खानपान को लेकर कई तरह की महत्वपूर्ण जानकारियां दी गई हैं।

डब्लूएचओ ने कहा है कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिए लोग साफ-सफाई का विशेष ध्यान दें। कोई भी खाद्य पदार्थ छूने से पहले और खाने से पहले अपने हाथों को अच्छे से साफ करें। किचन के फ्लोर को भी रोज अच्छी तरह से साफ करें। किचन में किसी भी प्रकार के कीड़े मकोड़ों और चूहों जैसे जीव को प्रवेश न करने दें।

किचन के कपड़ों को भी अच्छी तरह से साफ करें, दरअसल हानिकारक बैक्टीरिया अक्सर इन कपड़ों, बर्तन रखने की जगहों और सब्जी काटने के बोर्ड पर चिपक जाते हैं। इन जगहों की भी रोज सफाई करें।

पके हुए खाद्य पदार्थों को कच्चे खाद्य पदार्थों से दूर रखें। खासकर मीट या सी फूड आयटम को खाने वाली वस्तुओं के सीधे संपर्क में न आने दें।

एक तरह की खाद्य समाग्री को काटने के बाद चाकू और कटिंग बोर्ड को साफ कर लें। कच्चे और पके भोजन को अलग-अलग बर्तनों में रखें और यह सुनिश्चित करें कि दोनों आपस में संपर्क में न हों।

कच्चे भोजन जैसे मीट, सी फूड, जूस में खतरनाक बैक्टीरिया छिपे हो सकते हैं जो पके हुए खाद्य पदार्थ में भी जाकर उसे दूषित कर सकते हैं। ऐसे खाद्य पदार्थ को खाने से इंसान आसानी से बीमार हो सकता है।

किसी भी खाद्य पदार्थ को अच्छी तरह से पकाएं। खासकर देर से पकने वाले पदार्थ जैसे मीट, सी फूड, अंडे आदि को देर तक आंच पर रखें। इससे उसके अंदर मौजूद सभी प्रकार के बैक्टीरिया मर जाएंगे। पके हुए खाद्य पदार्थ को खाने से पहले गर्म करना सही रहेगा।

पके हुए भोजन को हवा में ज्यादा देर तक न छोड़ें। अगर आप उस खाद्य पदार्थ को पूरा नहीं खा पा रहे हैं तो उसे फ्रीज में रख दें और फिर से खाने से पहले गर्म जरूर कर लें। पके हुए खाने को 2 घंटे से ज्यादा खुले वातावरण में न छोड़ें।

खाने में इस्तेमाल होने वाले पानी की स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें। हो सके तो खाना बनाने के लिए भी आरओ वॉटर का ही प्रयोग करें। किसी भी सब्जी को पकाने के पहले उसे साफ पानी से अच्छी तरह धो लें। ताजी सब्जियों का ही सेवन करें।




और भी पढ़ें :