Burpees Exercise क्या है, बर्पी एक्सरसाइज के हेल्थ बेनिफिट्स

Last Updated: बुधवार, 9 जून 2021 (13:58 IST)

फिट रहने के लिए एक्सरसाइज सबसे अच्छा उपाय है। इससे शरीर में तरावट बनी रहती है, एक्टिव रहता है, कॉन्फिडेंस अच्छा दिखता है। शरीर के अलग - अलग अंग के लिए अलग - अलग एक्सरसाइज होती है। एक्सरसाइज के साथ खाने की आदतों में भी बदलाव करना जरूरी है। उसी तरह हर बाॅडी पार्ट के लिए
एक्सरसाइज करना जरूरी है।

आप बर्पी एक्सरसाइज भी कर सकते हैं। जी हां, इससे आपकी पूरी बॉडी की एक्साइज हो जाती है। यह एक्सरसाइज करने से आपकी कैलोरी भी जल्दी बर्न होगी और मसल्स भी बनेगी। तो आइए जानते हैं कैसे करें बर्पी एक्सरसाइज, इसके क्या लाभ है, क्या सावधानियां बरतना जरूरी है।

बर्पी एक्सरसाइज क्या है?

बर्पी एक्सरसाइज एक बाॅडी वेट एक्सरसाइज है, यह तेजी से फैट बर्न करने के साथ ही मसल्स को बढ़ाती है और बिना कोई मशीन के आराम से की जा सकती है।

कैसे करें बर्पी एक्सरसाइज -

यह एक्सरसाइज दो भागों में की जाती है। पहले भाग में पुशअप किए जाते हैं, दूसरे भाग में स्क्वाड किया जाता है।

- सबसे पहले अपने पैरों को कंधे की सीध तक खोलें। इसके बाद घुटनों को मोड़कर स्क्वैड की स्थिति में बैठ जाएं। इस दौरान अपनी कमर को एकदम सीधा रखें।

- इस पोजिशन में दोनों हाथों को जमीन पर टिका कर पुशअप की पोजिशन में आ जाएं। पैरों को पीछे की ओर खोलते हुए एक पुशअप लगाएं।

- कमर को सीधा ही रखें। उसे झुकने नहीं दें।

- फिर से उछलते हुए स्क्वैड की पोजिशन में आ जाएं। फिर खड़ें होकर हाथों को ऊपर खड़ा करें और जितना ऊंचा कूद सकते हैं कूदें।

- कूदने के बाद फिर से शुरुआत पोजीशन स्क्वाट में आ जाएं। और वहीं क्रम दोहराएं।

- शुरुआत में पुशअप और स्क्वाड में तालमेल बैठाने में जरूर समस्या होगी लेकिन प्रैक्टिस करने से कुछ ही दिनों में कमांड बन जाएगी।

बर्पी एक्सरसाइज के फायदे -

- बर्पी एक्सरसाइज करने से वेट लाॅस तेजी से होता है। और इससे मसल्स भी बढ़ती है। यह कैलोरी बर्न करने के लिहाज से सबसे अच्छी एक्सरसाइज है। इसकी लगातार प्रैक्टिस करने से दिल और फेफड़े भी मजबूत होते है।

- इसे लगातार करने से स्टेमिना बढ़ता है। ब्लडप्रेशर में सुधार होता है। दिल की धड़कन भी ठीक रहती है।

- इसे लगातार करने से शरीर में कसावट आती है और मांसपेशियां मजबूत होती है।

- यह फुल बॉडी एक्सरसाइज है। इससे शरीर की सभी मसल्स प्रभावित होती है। साथ ही आर्म,ग्लूट्स, हैमस्ट्रिंग को भी मजबूत बनाती है।

सावधानियां

- शुरुआत में इसे करने से पहले अपने जिम ट्रेनर से सलाह जरूर लें। इसके बाद ही यह एक्सरसाइज करें।

- पुशअप के दौरान इसकी सही पोजीशन होना बहुत जरूरी है। जिससे जल्दी स्पीड बढ़ेंगी।

- एक्सरसाइज करते वक्त सांस कब कैसे लेना है। इसे लेकर पूरी तरह से सावधानी बरतें और अपने जिम ट्रेनर से जरूर चर्चा करें।



और भी पढ़ें :