जामुन के फायदे और नुकसान जानकर दंग रह जाएंगे

jamun benefits n side effects
हर किसी को पसंद आने वाली चीज हैं, जिसे चखे बिना कोई नहीं रह पाता। यह स्वाद में जितने लाजवाब हैं, उतने ही इसके फायदे बेशकीमती हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसके अधिक सेवन से आपको नुकसान भी हो सकता है।

आइए जान‍ते हैं यहां जामुन के 7 बेहतरीन लाभ और 7 नुकसान- Uses, Benefits n Side Effects

1 गठिया- जामुन गठिया के उपचार में बेहद उपयोगी है। इसकी छाल को अच्छीतरह उबालकर उसके घोल का लेप घुटनों पर लगाने से गठिया में आराम मिलता है तथा इसमें मौजूद तांबा शीघ्र अवशोषित होकर रक्त निर्माण करने में सहायता करता है।

2 मधुमेह-बराबर मात्रा में जामुन+आम का रस मिलाकर पीने से मधुमेह रोगियों को लाभ होता है। यह रस त्वचा का रंग बनाने वाली रंजक द्रव्य मेलानिन कोशिका को सक्रिय करता है, अतः यह रक्तहीनता तथा ल्यूकोडर्मा की के लिए उत्तम औषधि है।

3 छाले- मुंह में छाले होने पर लगाने, उसे पीने एवं जामुन के पत्तों का चबाने से बहुत जल्दी लाभ होता है। कुछ देर जामुन के पत्तों को अच्छी तरह से चबाकर थूकते र‍हें, छाले गायब हो जाएंगे।

4 जामुन एक फायदे अनेक- जामुन का रस, शहद, आंवले या गुलाब के फूल का रस बराबर मात्रा में मिलाकर एक-दो माह तक प्रतिदिन सुबह सेवन करने से रक्त की कमी, शारीरिक दुर्बलता दूर होकर यौन तथा स्मरण शक्ति बढ़ती है।

5 उल्टी-दस्त या हैजा- 1 किलोग्राम ताजे जामुन रस निकालकर ढाई किलोग्राम चीनी मिलाकर शरबत जैसी चाशनी बनाकर इसे एक ढक्कनदार बोतल में भरकर रख लें। जब भी उल्टी-दस्त या हैजा जैसी बीमारी की शिकायत हो, तब 2 चम्मच शरबत और 1 चम्मच अमृतधारा मिलाकर पिलाने से तुरंत राहत मिलती है।

6 कब्ज, पेट के रोग तथा भूख न लगना- भूख न लगने की स्थिति में कुछ दिनों तक जामुन के रस का सेवन आश्चर्यजनक रूप से फायदेमंद साबित होता है। वहीं कब्ज और पेट संबंधी रोगों में जामुन का सिरका चमत्कारिक लाभ देता है।

7 जीव-जंतु का काटना- विषैले जंतुओं के काटने पर जामुन की पत्तियों का रस पिलाना चाहिए। काटे गए स्थान पर इसकी ताजी पत्तियों का पुल्टिस बांधने से घाव स्वच्छ होकर ठीक होने लगता है क्योंकि, जामुन के चिकने पत्तों में नमी सोखने की अद्भुत क्षमता होती है।

जामुन के नुकसान- Jamun Ke Nuksan

1 जामुन अत्याधिक मात्रा में खाने से शरीर में जकड़न एवं बुखार होने की संभावना रहती है। अत: जरूरत से ज्यादा इसका सेवन ना करें।

2 अधिक मात्रा में जामुन खाने से गले और सीने के लिए यह हानिकारक हो सकता है।

3 जामुन खाने के तुरंत बाद दूध नहीं पीना चाहिए।

4 जामुन का सेवन छोटे बच्चों की माताओं या दूध पिलाने वाली महिलाओं को नही करना चाहिए।

5 कभी भी खाली पेट जामुन का सेवन न करें।

6 अधिक मात्रा में जामुन खाने से जहां खांसी होती हैं, वहीं यह फेफड़े के लिए भी हानिकारक साबित होता है।

7 अत: जामुन के फायदे को ध्यान में रखते हुए इसके अधिक सेवन से बचना चाहिए, क्योंकि इसका अधिक सेवन के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।


jamun benefits



और भी पढ़ें :