मूंग,मोठ, सोयाबीन सहित ये अन्य चीजें खाएं भिगोकर, मिलेंगे बेशकीमती फायदे

ठंड के दिनों में भूख बहुत लगती है। लेकिन जल्दी-जल्‍दी में कुछ भी खा लेते हैं। ऐसे में कुछ भी खाने की गंदी आदत से बचने के लिए अंकुरित

दाल खाने के बेहतरीन लाभ आपको मिलते हैं। विटामिन ए, बी, सी, के, डी इनमें भरपूर पाया जाता है। सेहत और सौंदर्य दोनों लिहाज से ये
आपके लिए बेहतर है। अंकुरित अनाज में कैल्शियम, फास्फोरस, पोटेशियम, मैग्नीशियम, आयरन का बेहतरीन विकल्प है। अंकुरित अनाज में
फोलेट, ओमेगा-3, फैटी एसिड भरपूर पाया जाता है। आइए जानते हैं 4 अनाज जिन्हें आप भिगोकर खा सकते हैं -

1. अंकुरित मूंग - रोज एक कटोरी अंकुरित मूंग का सेवन करना चाहिए। इससे आपको फाइबर, पोटेशियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, आयरन,विटामिन बी6 मिलता है। इसमें प्रोटीन प्रचुर मात्रा में होता है। एक कटोरी अंकुरित मूंग का सेवन करने से एसिडिटी की समस्या से निजात

मिलेगी, आंखों के लिए बेहद लाभकारी, इम्‍यूनिटी बूस्‍ट करें, शरीर में तरावट बनी रहती है।

2. अंकुरित चना - अंकुरित चने में प्रोटीन, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, आयरन, मिनरल, विटामिन जरूरी पोषक तत्व होते हैं। इसका सेवनकरने से सबसे पहले अधिक खाने की आदत पर लगाम लगता है। कब्ज से राहत मिलती है, हीमोग्लोबिन बढ़ता है। त्वचा से जुड़ी परेशानियों में

राहत मिलती है। एनर्जी का भी अच्‍छा स्‍त्रोत है।

3.अंकुरित मोठ या मटकी - अगर आप मोठ नहीं खाते हैं तो अंकुरित मोठ या मटकी जरूर खाएं। ये विटामिन और मिनरल्स का सबसे अच्‍छा
स्‍त्रोत है। इसका सेवन करने से इम्‍यून सिस्‍टम मजबूत होता है। मांसपेशियां मजबूत होती है, तनाव कम होता है। अगर आप ब्लड प्रेशर के मरीजहै तो अपनी डाइट में अंकुरित मोठ जरूर शामिल करें।

4. अंकुरित सोयाबीन - अंकुरित सोयाबीन का सेवन बहुत कम लोग करते हैं लेकिन अगर आप अंकुरित नहीं खा सकते तो उसमें प्याज, टमाटर,
और ककड़ी भी मिक्स कर सकते हैं। यह प्रोटीन का सबसे बेहतर विकल्प है। इससे इम्‍यून सिस्‍टम मजबूत होता है। इसमें भरपूर मात्रा में
विटामिन सी होता है। शरीर के टिशू, सेल्‍स को बेहतर करने में मदद करता है। अंकुरित सोयाबीन खाने से कोलेस्ट्रॉल कम होता है, आयरन काबेहतरीन स्त्रोत है, वजन घटाने का बेहतरीन उपाय है और ठंड में हड्डियों को मजबूत करता है। अगर आप हाइपरटेंशन के मरीज है तो आपको
अंकुरित सोयाबीन का सेवन करना चाहिए।



और भी पढ़ें :