दशहरा पर खरीदी और पूजा के सबसे खास मुहूर्त और योग

Dussehra 2022 Date: 5 अक्टूबर बुधवार के दिन पूरे देश में दशहरे का पर्व मनाया जाएगा। दशहरे के दिन खरीदारी करना शुभ माना गया है। इस दिन आप चाहें तो दीपावली की खरीदारी भी कर सकते हैं। इस दिन शस्त्र पूजन भी होता है। इसी के साथ ही देवी पूजा, शमी पूजा, श्री राम जी की पूजा भी होती है। आओ जानते हैं सभी कार्य के लिए कौन से हैं सबसे अच्छे मुहूर्त और शुभ योग।

- अबूझ मुहूर्त : दशहरा के दिन को साढ़े तीन अबूझ मुहूर्त में से एक मानते हैं, इसलिए पूरा दिन ही शुभ होता है।

- अमृत काल मुहूर्त : सुबह 11:33 से दोपहर 01:02 तक। इस मुहूर्त में खरीदी कर सकते हैं।
आप चाहें तो वाहन, सोना या चांदी खरीद सकते हैं।

- अमृत काल मुहूर्त में शमी पूजन भी कर सकते हैं।
- अपराह्न मुहूर्त : दोपहर 01:20:11 से 03:41:37 तक सबसे शुभ मुहूर्त। इसमें शमी पूजा, श्री राम पूजा, देवी पूजा, हवन आदि कर सकते हैं।

- गोधूलि मुहूर्त : शाम 06:12 से 06:36 तक। इस मुहूर्त में श्रीराम और देवी की आरती कर सकते हैं।

- विजय मुहूर्त : दोपहर 02:26 से 03:13 तक। इस मुहूर्त में शस्त्र पूजा कर सकते हैं।

- शुभ योग: दशहरे पर रवियोग प्रातः: 06:30 से रात्रि 09:15 तक, सुकर्मा योग सुबह 08:21 तक, इसके बाद धृति योग पूरे दिन और रात रहेगा।
- रावण दहन कब करें : रावण दहन रात में करने की परंपरा है। इसलिए रात्रि का चौघड़िया देखकर कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :